Site icon Vibes Of India

टेक्सास में 19 बच्चों समेत 23 लोगों की गोली मार कर हत्या

अमेरिका में टेक्सास राज्य के एक प्राथमिक स्कूल में 18 वर्षीय एक बंदूकधारी ने अंधाधुंध गोलीबारी करके 19 बच्चों समेत 23 लोगों की हत्या कर दी और कई दूसरे इस घटना में घायल हो गए.

अमेरिका में टेक्सास राज्य के एक प्राथमिक स्कूल में 18 वर्षीय एक बंदूकधारी ने अंधाधुंध गोलीबारी करके 19 बच्चों समेत 23 लोगों की हत्या कर दी और कई दूसरे इस घटना में घायल हो गए.

अमेरिका में टेक्सास राज्य के एक प्राथमिक स्कूल में 18 वर्षीय एक बंदूकधारी ने अंधाधुंध गोली बारी करके 19 बच्चों समेत 23 लोगों की हत्या कर दी और कई दूसरे इस घटना में घायल हो गए. इसके बाद पुलिस कार्रवाई में हमलावर मारा गया. सैन एंटोनियो से 134 किलोमीटर दूर टेक्सास के उवाल्डे शहर के रॉब एलीमेंट्री स्कूल में मंगलवार पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे गोलियों की आवाज सुनाई दीं.

हमलावर की पहचान साल्वाडोर रामोस के रूप में हुई

टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने बताया कि हमलावर की पहचान साल्वाडोर रामोस के रूप में हुई है, जो स्कूल के पास के एक इलाके का रहने वाला था. अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हमला क्यों किया गया. एबॉट ने मंगलवार शाम को कहा, ‘उसने भयंकर गोलीबारी करके लोगों की हत्या कर दी। इसमें 14 बच्चों और एक अध्यापक की मौत हो गई.’ बाद में मृतक संख्या बढ़ गई और गोलीबारी में 18 बच्चों और तीन वयस्कों की मौत होने की जानकारी दी गई.

कानून प्रवर्तन से जुड़े दो अधिकारियों को भी गोलियां लगी

स्थानीय मीडिया ने रिपोर्ट किया है कि ऐसा अनुमान है कि वो इलाक़े के ही हाई स्कूल का छात्र था.उन्होंने बताया कि कानून प्रवर्तन से जुड़े दो अधिकारियों को भी गोलियां लगी हैं, लेकिन उनके ठीक हो जाने की उम्मीद है. कानून प्रवर्तन के सूत्रों ने पुष्टि की कि रामोस के पास एक हैंडगन और एक एआर -15 अर्द्धस्वचालित राइफल थी. उसके पास उच्च क्षमता वाली मैगजीन भी थी। मृतकों के नाम और अन्य जानकारी अभी उपलब्ध नहीं कराई गई है.


हमलावर ने पहले दादी को बनाया था निशाना

अब हमलावार को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है. कि हमलावर ने स्कूल जाने से पहले अपनी दादी को भी गोली मारी थी. गोली लगने के बाद दादी को सैन एंटोनियो में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

राष्ट्रपित जो बाइडन ने कहा वह थक चुके है ,बंदूक पर लाएंगे नियंत्रण


इस हमले पर अमेरिकी राष्ट्रपित जो बाइडन का भी बयान आया है. उन्होंने इस तरह की गोलीबारी पर बयान देते हुए वो ‘थक’ चुके हैं. उन्होंने बंदूक़ों पर नियंत्रण की भी बात कही. उन्होंने कहा कि अब वक्त आ गया है कि कार्रवाई की जाए.

गेहूं के बाद सरकार ने चीनी निर्यात पर लगाया 1 जून से प्रतिबंध