Site icon Vibes Of India

भाजपा के राज में गौ-तस्करी जारी, एक वर्ष में 22174 किलो गौ माँस जब्त

सरकार ने माना गुजरात के साबरकांठा जिले में जहर से 100 से अधिक गायों की मौत

सरकार ने माना गुजरात के साबरकांठा जिले में जहर से 100 से अधिक गायों की मौत

राज्य में गौ-तस्करी को लेकर कड़ी कानून होने के बावजूद गौ वंश के कत्ल एवं गौ-तस्करी के भारी मामले सामने या रहे हैं जिसमे सबसे अधीक मामले सूरत अहमदाबाद और दाहोद से हैं, सरकार द्वारा सदन में जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2020 कोरोना काल के समय में गुजरात राज्य में 22174 किलो गौ माँस जब्त किया गया था, जिसमे सबसे ज्यादा गौ माँस सूरत से जब्त हुआ था।

विपक्ष की विधायक गेनीबेन ने सरकार से दो प्रश्न किए थी जिनमे से एक प्रश्न था की वर्ष 2020 में राज्य में कितने किलो गौ माँस जब्त किया गया और दूसरा प्रश्न अक्टूबर 2021 तक गौ वंश का कत्ल करने वाले और गौ-तस्करी करने वाले लोगों के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा पासा सहित और क्या कार्यवाही की गई है ?

सदन में विपक्ष की विधायक गेनीबेन ठकोर के पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए सरकार ने कहा की वर्ष २०२० में गुजरात राज्य में 22174 किलो गौ माँस जब्त किया गया था जिनमे सूरत शहर से 10742 किलो, अहमदाबाद शहर से 3245 किलो, दाहोद जिले से 1741 किलो गौ माँस जब्त हुआ, दूसरे प्रश्न के जवाब में राज्य सरकार ने कहा की गौ-तस्करों के खिलाफ सरकार कड़ी से कड़ी कार्यवाही कर रही है।

बाबा रामदेव 31000 करोड़ की कंपनी में बिना किसी निवेश के होंगे 80% के मालिक