मुख्यमंत्री की उपस्थिति में आई-क्रिएट और सीएसआईआर के बीच समझौता

| Updated: April 25, 2022 7:02 pm

गुजरात के आई-क्रिएट और भारत सरकार के वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद सीएसआईआर के बीच समझौता ज्ञापन मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की उपस्थिति में गांधीनगर में संपन्न हुआ। समझौता ज्ञापन देश में उद्यमियों और शोधकर्ताओं के लिए सीएसआईआर और आई-क्रिएट संयुक्त संसाधन प्रदान करेगा। यह देश और राज्य में तेजी से आर्थिक विकास के साथ विश्व स्तर के स्टार्टअप के निर्माण को एक नई गति देगा।

कुशल और होनहार तकनीकी स्टार्टअप के लिए एक सहयोगी समर्थन प्रणाली स्थापित करने से वैज्ञानिक नवाचार और उच्च तकनीक वाले स्टार्टअप की विपणन क्षमता को भी बढ़ावा मिलेगा। राजीव कुमार गुप्ता और सीएसआईआर के मुख्य वैज्ञानिक और प्रमुख केंद्रीय योजना निदेशालय के. वेंकटेश सुब्रह्मण्यम ने विचारों का आदान-प्रदान किया।

यह महत्वपूर्ण समझौता ज्ञापन आईक्रिएट को नामित सीएसआईआर प्रयोगशालाओं में नए इनक्यूबेटर स्थापित करने में मदद करेगा और ऐसे स्टार्ट-अप को सीएसआईआर के उपकरणों, सुविधाओं और वैज्ञानिक जनशक्ति का उपयोग करने की अनुमति देगा। सीएसआईआर बौद्धिक संपदा सहायता प्रदान करके उभरते उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए भारत के अभिनव स्टार्ट-अप को वित्तीय सहायता प्रदान करने के नए तरीकों का पता लगाएगा।

आईक्रिएट को अपने मजबूत उद्योग कनेक्शन और मार्केट लिंकेज से भी फायदा होगा

देश के युवाओं के स्टार्टअप इनोवेशन को बढ़ावा देकर ‘आत्मनिर्भर भारत’ के विजन को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए आह्वान में गुजरात ने इस समझौता ज्ञापन में अग्रणी भूमिका निभाई है। आईक्रिएट को अपने मजबूत उद्योग कनेक्शन और मार्केट लिंकेज से भी फायदा होगा, ताकि सीएसआईआर वैज्ञानिकों द्वारा किए गए वैज्ञानिक नवाचारों के माध्यम से वास्तविक जरूरतों की पहचान की जा सके और उन्हें पूरा किया जा सके। इस प्रकार, सीएसआईआर द्वारा किए गए नवाचारों के तेजी से व्यावसायीकरण का व्यावसायीकरण किया जाएगा और वैश्विक बाजार भी सुलभ होगा।

आईक्रिएट और सीएसआईआर के विलय से कई हितधारकों के बीच नए तालमेल के परिणामस्वरूप स्टार्ट-अप के लिए नए अवसर खुलने की उम्मीद है। आईक्रिएट ने बड़ी संख्या में स्टार्ट-अप को तेजी से बढ़ने और सभी क्षेत्रों में उत्पादकता बढ़ाने में मदद की है। अब सीएसआईआर के सहयोग से, आईक्रिएट भारत के मजबूत नवोन्मेषी स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र का समर्थन करेगा।

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने विश्वास व्यक्त किया कि यह भागीदारी युवा स्टार्टअप और संपूर्ण स्टार्टअप-नवाचार-अनुसंधान पारिस्थितिकी तंत्र के लिए महत्वपूर्ण होगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव पंकज जोशी, आई-क्रिएट के सीईओ अनुपम जलोटे सहित सीएसआईआर के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

गुजरात में स्थापित होगा मेगा टेक्सटाइल पार्क – दर्शना जरदोष

Your email address will not be published.