Gujarat News, Gujarati News, Latest Gujarati News, Gujarat Breaking News, Gujarat Samachar.

Latest Gujarati News, Breaking News in Gujarati, Gujarat Samachar, ગુજરાતી સમાચાર, Gujarati News Live, Gujarati News Channel, Gujarati News Today, National Gujarati News, International Gujarati News, Sports Gujarati News, Exclusive Gujarati News, Coronavirus Gujarati News, Entertainment Gujarati News, Business Gujarati News, Technology Gujarati News, Automobile Gujarati News, Elections 2022 Gujarati News, Viral Social News in Gujarati, Indian Politics News in Gujarati, Gujarati News Headlines, World News In Gujarati, Cricket News In Gujarati

प्रणय और राधिका रॉय ने दिया इस्तीफा: एनडीटीवी में क्या हो रहा है

| Updated: November 30, 2022 10:17

नई दिल्ली टेलीविज़न लिमिटेड (NDTV) के अधिग्रहण (acquire) के लिए अडाणी समूह की खुली पेशकश के बीच प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने 29 नवंबर से आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड (RRPRH) के बोर्ड में निदेशक के रूप में इस्तीफा दे दिया है। प्रणय रॉय एनडीटीवी के अध्यक्ष थे, तो पत्नी राधिका रॉय कार्यकारी निदेशक थीं।

एनडीटीवी ने एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि आरआरपीआर होल्डिंग के बोर्ड ने सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया और सेंथिल सिन्नैया चेंगलवारायण को निदेशक मंडल (Directors on its board) में तत्काल प्रभाव से नियुक्त करने की मंजूरी दे दी है।

एनडीटीवी ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को यह जानकारी मंगलवार को एक पत्र के जरिये दी। इससे पहले अगस्त में विश्वप्रधान कॉमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) एनडीटीवी की प्रमोटर कंपनी RRPR की 99.5% हिस्सेदारी को खरीद लिया था। VCPL एएमजी मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड की सब्सिडरी कंपनी है। इसमें 100% हिस्सेदारी अडाणी इंटरप्राइजेज लिमिटेड की है।

एनडीटीवी की प्रमोटर कंपनी के मुताबिक, उसने अपनी इक्लिटी पूंजी के 99.5% शेयरों को अडाणी ग्रुप के स्वामित्ल वाली वीसीपीएल को ट्रांसफर कर दिए हैं। इन शेयरों के ट्रांसफर से अडाणी ग्रुप को एनडीटीवी में 29.18 % हिस्सेदारी मिल जाएगी। वहीं, अडाणी ग्रुप ने एनडीटीवी में और 26 % हिस्सेदारी के लिए मार्केट में ओपन ऑफर लाने का एलान किया था। इसके साथ ही अडाणी ग्रुप ने 26 % अतिरिक्त हिस्सेदारी के लिए भी खुली पेशकश की है, जो पांच दिसंबर तक समाप्त हो जाएगा।

एनडीटीवी का टेकओवर: यह सब कैसे शुरू हुआ?

दरअसल अडाणी ग्रुप ने अगस्त में ही विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL)  का टेकओवर करने का एलान किया था। बता दें कि विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड ने ही 2009 और 2010 में एनडीटीवी के बिजनेस प्रमोटर आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड को 403.85 करोड़ रुपये उधार में दिए थे। इसके बदले में कर्ज देने वाले से किसी भी समय एनडीटीवी में 29.18 % हिस्सेदारी लेने की बात थी। अब अडाणी ग्रुप कंपनी अतिरिक्त 26% हिस्सेदारी खरीदने के लिए खुली पेशकश लाया है।

हिस्सेदारी का यह है गणितः

कंपनी में रॉय परिवार की सीधे तौर पर 32.36% हिस्सेदारी है। इनमें प्रणय की हिस्सेदारी 15.94% है, जबकि राधिका की 16.32% हिस्सेदारी है। एनडीटीवी के प्रमोटर ग्रुप व्हीकल RRPL होल्डिंग की कंपनी में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जिसे अडाणी समूह ने ले लिया है। यदि अडाणी अपनी खुली पेशकश से जरूरी 26 प्रतिशत हिस्सेदारी ले लेते हैं, तो समूह की कुल हिस्सेदारी 55.18 प्रतिशत हो जाएगी। इससे एनडीटीवी उसका हो जाएगा। यदि वह 50 प्रतिशत हिस्सेदारी नहीं ले पाता है, तो उनके पास अन्य संस्थागत निवेशकों से शेयर खरीदने का विकल्प होता है।

प्रणय, राधिका रॉय और ग्रुप के अलावा एनडीटीवी का सबसे बड़ा शेयरधारक मॉरीशस की कंपनी विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI) के एलटीएस (LTS) इन्वेस्टमेंट फंड लिमिटेड है, जिसकी 9.75% हिस्सेदारी है। उसने यह हिस्सेदारी सितंबर 2016 को समाप्त तिमाही में खरीदी थी।

एनडीटीवी में दूसरा बड़ा FPI शेयरधारक मॉरीशस स्थित विकास इंडिया EIF I फंड है, जिसकी 4.42% हिस्सेदारी है। इसे उसने सितंबर 2021 को समाप्त तिमाही में हासिल किया। अन्य प्रमुख शेयरधारकों में GRD सिक्योरिटीज (2.82%), आदेश ब्रोकिंग हाउस (1.5%) शामिल हैं, ड्रोलिया एजेंसियां (1.48%) और कन्फर्म रियलबिल्ड (1.33%) हैं।

और पढ़ें: दिल्ली एम्स का डेटा सर्वर बहाल, हैक होने से फंस गए थे 3-4 करोड़ मरीजों के डेटा

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: