बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव के 10 लाख रोजगार देने के वादे की पुष्टि की

| Updated: August 13, 2022 1:52 pm

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 12 अगस्त को उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव द्वारा 10 लाख रोजगार देने के वादे पर काम करने की पुष्टि की, जो उन्होंने 2020 में विधानसभा चुनाव के दौरान राजद के अभियान की अगुवाई करते हुए किया था। यह चुनाव विपक्षी मोर्चे ने महागठबंधन के तौर राजद के नेतृत्व में लड़ा था , नजदीकी मुकाबले में एनडीए सरकार बनाने में कामयाब हुयी थी।

शुक्रवार को पत्रकारों से बात करते हुए कुमार ने कहा, “यह सही है। हम प्रयास कर रहे हैं और हम अपनी पूरी कोशिश करेंगे। उन्होंने जो कहा है वह सही है। इसके लिए सभी प्रयास किए जाएंगे।”

इससे पहले दिन में, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के बीच राजद नेता के चुनावी वादे पर 10 लाख नौकरियों के पहले किए गए वादे को लेकर वाकयुद्ध छिड़ गया।

गिरिराज सिंह ने यादव के एक साक्षात्कार की एक क्लिप भी ली और राजद नेता पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यादव मुख्यमंत्री बनने के बाद ही अपना चुनावी वादा पूरा करेंगे क्योंकि वह अब डिप्टी हैं।

जवाब में यादव ने इस इंटरव्यू का लंबा वर्जन पोस्ट करते हुए कहा, ”इतना बेशर्म मत बनो. सिर्फ एक फुट लंबी चोटी रखने से कोई ज्ञानी नहीं बनता.”

जिस पर सिंह ने पलटवार करते हुए कहा, “बिहार की धर्मनिरपेक्ष सरकार के शीर्ष नेताओं ने हिंदू धर्म के प्रतीकों पर हमला करना शुरू कर दिया है।” सिंह ने यह भी कहा कि चारा घोटाला मामलों के संदर्भ में “चारा चोर का बेटा” संत नहीं बन सकता, जिसमें यादव के पिता और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को दोषी ठहराया गया है।

जानें नीतीश कुमार और भाजपा गठबंधन के बीच क्या चल रहा है?

Your email address will not be published.