भारत में एवियन इन्फ्लूएंजा से हुई पहली मौत

| Updated: July 21, 2021 2:03 pm

हरियाणा के एक 11 वर्षीय लड़के को 2 जुलाई को दिल्ली में AIIMS में भर्ती कराया गया था, रिपोर्ट के अनुसार उसे ल्यूकेमिया व निमोनिया का पता चला था और मंगलवार को H5N1 एवियन इन्फ्लूएंजा से उसकी की मृत्यु हो गई। पीटीआई द्वारा रिपोर्ट के अनुसार 2021 में भारत में दर्ज की गई यह पहली ऐसी मौत है । समाचार एजेंसी ने आगे कहा कि उनके सैम्पल कोविड -19 नेगेटिव थे , और इसे नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे भेजा गया, जहां एच 5 एन 1 एवियन इन्फ्लूएंजा के लिए पॉज़िटिव होने की पुष्टि की गई। लड़के ने नाक बहने, गले में खराश और छींकने जैसे सामान्य लक्षणों की सूचना दी।

हालांकि बर्ड फ्लू या एवियन इन्फ्लूएंजा एक अत्यधिक संक्रामक बीमारी है, लेकिन डॉक्टर ने कहा कि यह मनुष्यों में आसानी से नहीं फैलता है। फ्लू इन्फ्लुएंजा टाइप ए वायरस के कारण होता है, जो पोल्ट्री को प्रभावित करने के लिए जाने जाते हैं, जो संक्रमित पक्षियों के संपर्क में आते हैं, वे फ्लू के शिकार हो सकते हैं।

Your email address will not be published.