गुजरात के राजकोट में पहला चाइल्ड केयर सेंटर; बच्चों की चिंता से मुक्त महिला पुलिस

| Updated: January 25, 2022 8:36 pm

गुजरात के राजकोट शहर में आज पहली बार ‘वात्सल्य अमृत घोडियाघर’ (चाइल्ड केयर सेंटर) शुरू किया गया है।

हवेली की स्थापना सबसे पहले राजकोट में की गई थी और इसका उद्घाटन आज राज्य के पुलिस प्रमुख आशीष भाटिया ने किया। महिला अधिकारी सीसीटीवी से अपने फोन के जरिए अपने बच्चों की निगरानी कर सकती हैं।

शहर में पुलिस में सेवारत महिलाएं अपने बच्चों को लेकर सबसे ज्यादा चिंतित रहती हैं। और उसके लिए ही चाइल्ड केयर सेंटर शुरू किया गया है। अपने बच्चों का खास ख्याल रखने के लिए। पुलिस परिवार के बच्चों को अकेले नहीं रहना पड़ता है और विशेष रूप से महिला पुलिस कर्मियों को अपने बच्चों के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है जब वे ड्यूटी पर जाते हैं और अच्छा काम कर सकते हैं।

बच्चों को घर जैसा माहौल देने के लिए सभी सामान पालने के अंदर रखा जाता है और देखभाल के लिए दो विशेष नर्सें भी होती हैं। इसके साथ ही जब भी कोई महिला पुलिस अधिकारी अपने बच्चे को देखना चाहती है तो वह अपने मोबाइल में सीसीटीवी लगा सकती है और देख सकती है कि उसका बच्चा क्या कर रहा है| हालांकि इस योजना के लिए फिलहाल करीब 50 बच्चों का पंजीकरण किया जा चुका है।

इस चाइल्ड केयर सेंटर की दीवारों को भी कार्टून और पढ़ने वाले बच्चों की तस्वीरों से सजाया गया है। सभी प्रकार के खेल उपकरण भी रखे जाते हैं ताकि बच्चे बोर न हों। बच्चों की सुविधा के लिए खास इंतजाम किए गए हैं।

Your email address will not be published.