गुजरात: टॉप 10 कंपनियों का मार्केट कैप एक दिन में 39,000 करोड़ रुपये घटा

| Updated: September 24, 2022 3:01 pm

अहमदाबाद: शीर्ष 10 कंपनियों में से नौ ने एक दिन में ही 39,000 करोड़ रुपये का मार्केट कैप खो दिया,  क्योंकि शुक्रवार को सेंसेक्स 1,000 अंक से अधिक टूट गया। अडाणी समूह की कंपनियों के अलावा  गुजरात फ्लोरोकेमिकल्स, जाइडस लाइफसाइंसेज, टोरेंट फार्मा और टोरेंट पावर ने एक दिन में 1,000 करोड़ रुपये से अधिक के मार्केट कैप का नुकसान दर्ज किया। इसके उलट एआईए इंजीनियरिंग ने शुक्रवार को करीब 2,000 करोड़ रुपये की वृद्धि दर्ज की।

हालांकि, बाजार विश्लेषकों का मानना है कि गुजरात की कंपनियों ने बड़े बाजारों (broad markets) की तुलना में कम गिरावट झेला है। उन्हें यह भी लगता है कि वैश्विक कारणों से बाजार में उच्च अस्थिरता बनी (market will continue to see high volatility due to global reasons) रहेगी। एक तकनीकी शोध विश्लेषक हितेश सोमानी ने कहा, “गुजरात की 10 शीर्ष कंपनियों में से नौ में शेयरों की कीमतों में भारी गिरावट देखी गई और उनके बाजार पूंजीकरण में 41,000 करोड़ रुपये की गिरावट आई। अगर निफ्टी 17,000 के स्तर से नीचे आता है, तो हमें भारी गिरावट देखने को मिल सकती है। हलचल का इन कंपनियों पर भी बुरा असर पड़ेगा।”

बता दें कि निफ्टी शुक्रवार को 302 अंक (1.72%) की गिरावट के साथ 17,327 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि सेंसेक्स 1,020 अंकों की गिरावट के साथ 58,098 पर और बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का मार्केट कैप 4.8 लाख करोड़ रुपये की गिरावट के साथ शुक्रवार को 276.64 लाख करोड़ रुपये पर बंद हुआ। एक स्टॉक ब्रोकिंग फर्म के निदेशक गुंजन चोकसी ने कहा, “यूएस फेड में 75 आधार अंकों की बढ़ोतरी के बाद दुनिया भर में बाजार की हालत खराब हुई है। शुक्रवार को जर्मनी, फ्रांस और हांगकांग जैसे कई बाजारों ने 52 सप्ताह का निचला स्तर बनाया। भारतीय बाजार भी गिर गया, क्योंकि वैश्विक अर्थव्यवस्था के बारे में मंदी का डर काफी बढ़ गया है।”

Also Read: क्या आपके विचार से आपकी नवरात्रि महंगी है, आखिरकार क्यों!

Your email address will not be published. Required fields are marked *