भारत और मेडागास्कर ने राजनयिक और आधिकारिक पासपोर्ट धारकों के लिए वीजा मुक्त यात्रा के समझौते पर किया हस्ताक्षर

| Updated: September 15, 2022 11:16 am

मेडागास्कर (Madagascar) के विदेश मंत्री रिचर्ड रंड्रियामांड्राटो (Foreign Minister Richard Randriamandrato) और राजदूत अभय कुमार (Ambassador Abhay Kumar) ने 13 सितंबर 2022 को भारत और मेडागास्कर के बीच राजनयिक और सेवा/आधिकारिक पासपोर्ट धारकों के लिए वीजा में छूट पर एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। यह समझौता हिंद महासागर (Indian Ocean) के दो पड़ोसियों के बीच राजनयिकों और अधिकारियों की यात्रा को सुविधाजनक बनाने में मदद करेगा।


भारत (India) और मेडागास्कर (Madagascar) ने 12 सितंबर को राजनयिकों (diplomats) के प्रशिक्षण पर एक समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किया।
मार्च 2018 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind की यात्रा के बाद से पिछले 4 वर्षों के दौरान हिंद महासागर (Indian Ocean) के दो पड़ोसियों के बीच द्विपक्षीय संबंध मजबूत होते गए हैं। अकेले 2022 में चार समझौता पत्रों/समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए हैं और स्वास्थ्य, पारंपरिक चिकित्सा, संस्कृति, सीमा शुल्क और प्रशासनिक मामलों, पर्यावरण संरक्षण, समुद्री सुरक्षा के क्षेत्र में कई और समझौतों को अंतिम रूप दिया गया है।


मेडागास्कर में भारतीय मूल के सबसे अधिक लोग गुजरात से


मेडागास्कर के साथ भारत के समुद्री संबंध 18वीं शताब्दी के हैं। उन्नीसवीं सदी के अंत और बीसवीं सदी के शुरुआती वर्षों में मेडागास्कर (Madagascar) में भारत से आने वाले लोगों की संख्या में लगातार वृद्धि देखी गई। मेडागास्कर में भारतीय मूल के लगभग 17,500 व्यक्ति ज्यादातर गुजरात से हैं।

गुजरात -आंदोलन में एक पूर्व सैनिक की मौत, पुलिस से भिड़ंत ,सैनिकों ने जताया आक्रोश

Your email address will not be published.