आरआईएल और लूपा सिस्टम्स ने मिलाया हाथ, साझेदारी में आईपीएल अधिकारों की नीलामी में उतरने की तैयारी

| Updated: April 28, 2022 10:44 am

मीडिया दिग्गज उदय शंकर एवं जेम्स मर्डोक और रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) द्वारा प्रवर्तित लूपा सिस्टम्स ने दोनों के लिए विकल्प तलाशने के चार महीने बाद स्पोर्ट्स और मनोरंजन प्रसारण में निवेश के लिए एक नई साझेदारी की घोषणा की है।

लुपा सिस्टम्स और शंकर द्वारा प्रवर्तित प्लेटफॉर्म बोधि ट्री सिस्टम्स ने कहा कि वह वायकॉम18 में 13,500 करोड़ रुपये का निवेश कर रहा है, जो आरआईएल के टीवी18 और वायकॉमसीबीएस के बीच संयुक्त उद्यम है। इसे अब पैरामाउंट ग्लोबल के रूप में रीब्रांड किया गया है।

आरआईएल की सहायक कंपनी रिलायंस प्रोजेक्ट्स एंड प्रॉपर्टी मैनेजमेंट सर्विसेज इस कंपनी में अतिरिक्त 1,645 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। यह जानकारी बुधवार को एक बयान में दी गई। इसमें कहा गया कि जियो सिनेमा ऐप को सौदे के हिस्से के रूप में वायकॉम18 में स्थानांतरित कर दिया जाएगा, जैसा कि स्ट्रीमिंग-फर्स्ट बनाने की मांग की गई थी। वायकॉम18 कलर्स टीवी चैनलों और ओटीटी प्लेटफॉर्म वूट के सुइट का मालिक है और उसका संचालन करता है।

आरआईएल और लुपा के बीच साझेदारी तब हुई है, जब वे 2023-27 सीजन के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मीडिया अधिकारों के लिए बोली लगाने की तैयारी कर रहे हैं। नीलामी जून में होनी है। वायकॉम18 ने पिछले हफ्ते अपना स्पोर्ट्स चैनल स्पोर्ट्स18 लॉन्च किया, जो भारत में स्पोर्ट्स ब्रॉडकास्टिंग में पहला कदम है।

जानकार सूत्रों ने बताया कि लुपा सिस्टम्स में भारत के प्रबंध निदेशक नितिन कुकरेजा को नए उद्यम का मुख्य कार्यकारी अधिकारी नामित किए जाने की संभावना है।

बोधि ट्री सिस्टम्स, जो वायकॉम18 में प्रस्तावित 13,500 करोड़ रुपये के निवेश के लिए निवेशकों के एक संघ के साथ फंड जुटाने का नेतृत्व कर रहा है, वायकॉम 18 में वायाकॉम सीबीएस से 39 प्रतिशत हिस्सेदारी लेने का इरादा रखता है, जिसका उसमें 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है। सूत्रों के मुताबिक, आरआईएल इसमें अपनी हिस्सेदारी बनाए रखेगी। आरआईएल के पास दरअसल नेटवर्क18 की सहायक कंपनी टीवी18 के माध्यम से 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

खेल प्रसारण में मजबूत पृष्ठभूमि वाले कुकरेजा  2016 में स्टार स्पोर्ट्स के सीईओ रह चुके हैं। इनके अलावा वायकॉम18 ने अनिल जयराज को भी अपने स्पोर्ट्स बिजनेस के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया है, जो पहले स्टार स्पोर्ट्स के साथ भी थे।

वायकॉम18 ने डिज्नी-स्टार, सोनी, जी और अमेजन जैसे प्रतियोगियों के साथ आईपीएल के मीडिया अधिकारों की नीलामी के लिए टेंडर दस्तावेज भी लिया है, क्योंकि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने चार पैकेजों के तहत अधिकारों के लिए लगभग 33,000 करोड़ रुपये संयुक्त आरक्षित मूल्य रखा है।

मुकाबला जोरदार होने की उम्मीद है, क्योंकि डिज्नी-स्टार टेलीविजन और डिजिटल के मीडिया अधिकारों को बरकरार रखना चाहता है। आरआईएल-लूपा का मुकाबला जी के साथ-साथ सोनी से भी होगा, जिसके साथ इसका विलय हो रहा है। इनके अलावा मैदान में अमेजन तो है ही।

स्टार इंडिया और फिर डिज्नी के पूर्व बॉस के रूप में शंकर ने डिज्नी-स्टार को स्पोर्ट्स में आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। स्टार ने शंकर के कार्यकाल के दौरान सोनी से आईपीएल के लिए मीडिया और डिजिटल अधिकार हड़प लिए थे। सोनी ने पहले मीडिया अधिकारों की नीलामी में आधे वर्षों के लिए भुगतान की गई राशि का दोगुना भुगतान किया। स्टार ने आठ साल के लिए आईसीसी टूर्नामेंट की बोली जीतने के लिए 11,880 करोड़ रुपये का भुगतान भी किया।

Your email address will not be published.