गुजरात विधानसभा चुनाव- सियासी नब्ज टटोलने के लिए प्रवासी नेताओं को उतारेगी भाजपा

| Updated: September 19, 2022 8:44 pm

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष दो दिन के गुजरात के दौरे पर

जनसंपर्क public election बनाना भाजपा BJP से बेहतर कोई नहीं जानता। यह देखते हुए कि गुजरात चुनाव बस कुछ ही महीने दूर हैं, बीजेपी ने जमीनी स्तर पर लोगों को जोड़ने का कार्यक्रम जोर-शोर से शुरू कर दिया है, हालांकि गुजरात में बीजेपी बहुत सुरक्षित है; और पूरी संभावना है, कि भाजपा वापसी के लिए तैयार है। फिर भी पार्टी के वरिष्ठतम नेता इसे आसानी से नहीं ले रहे हैं.

ना केवल नेतृत्व के स्तर पर बल्कि कार्यकर्ता स्तर पर भी नेताओं की पूरी फ़ौज उतारी गयी है। उत्तर प्रदेश , राजस्थान , मध्य प्रदेश , बिहार महाराष्ट्र जैसे राज्यों के 700 से अधिक जिला अध्यक्ष , विधायक ,सांसदों को राज्य की 182 विधानसभा में सहायक के तौर पर जिम्मेदारी दी गयी है , जो जमीनी स्तर पर समन्यवय और हालात से अवगत कराएँगे
जिनका एक दौरा पूरा हो चूका है , इन नेताओं को तीन दिन का प्रशिक्षण भी दिया गया है। ज्यादातर उन नेताओं को इस गुजरात भेजा गया है जो राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ Rashtriya Swayamsevak Sangh से भी किसी ना किसी तौर से जुड़े हैं।

राजस्थान के नेताओं को उत्तर गुजरात की जिम्मेदारी दी गयी है , जबकि महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के नेता दक्षिण और मध्य गुजरात की जिम्मेदारी सौपी गयी है। सौराष्ट्र ज्यादातर विभिन्न राज्यों के सहकारिता क्षेत्र से जुड़े नेताओं को सौपा गया है। प्रदेश महासचिव और पूर्व गृह राज्य मंत्री रजनी पटेल को इन नेताओं से समन्यवय की जिम्मेदारी सौपी गयी है.
गुजरात भाजपा प्रदेश महासचिव रजनी पटेल (Gujarat BJP state general secretary Rajni Patel ) के मुताबिक भाजपा में काम करने का तरीका अलग है। हम अलग अलग राज्य में बाकि राज्यों के कार्यकर्ताओं का इस्तेमाल करती है। गुजरात से भी हर राज्य में टीम जाती है। उत्तर प्रदेश , बंगाल , बिहार में भी गुजरात के भाजपा कार्यकर्ता गए थे।

प्रवासी नेताओं ने पहले दौर में भौगोलिक स्थिति ,विधायकों के प्रति कार्यकर्ताओं की राय , और जातीय समीकरण की रिपोर्ट पार्टी को सौप चुके हैं जबकि 25 सितंबर से वह दूसरा दौर शुरू करेंगे और जैसे जैसे चुनाव नजदीक आएंगे प्रवासी भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की संख्या 10,000 को पार कर जाएगी।

राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ( National BJP President JP Nadda )दो दिवसीय दौरे पर आज शाम गुजरात पहुंचें। वह मंगलवार को सुबह 9 बजे गुजरात प्रदेश किसान मोर्चा द्वारा नियोजित योजना “नमो किसान पंचायत कार्यक्रम के लिए ई-बाइक को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे . 10 बजे गांधीनगर में मेयर कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित करेंगे। इसमें भाजपा शासित नगर पालिका और नगर निगम के महापौर भाग लेंगे। दो दिवसीय इस कॉन्फ्रेंस का समापन भी अगले दिन जेपी नड्डा के अभिभाषण से होगा। मेयर कॉन्फ्रेंस में भारत के 18 अलग-अलग राज्यों के करीब 121 मेयर और डिप्टी मेयर मौजूद रहेंगे. इस शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्रभाई मोदी महापौर शिखर
आभाषी तौर से मार्गदर्शन करेंगे
20 सितंबर को राजकोट में दोपहर 2 बजे निर्वाचित जनप्रतिनिधियों से संवाद करेंगे। जिसमे भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों को मार्गदर्शन देंगे। इसके बाद टाइल्स उद्योग के लिए प्रसिध्द मोरबी में रोड शो में शामिल होंगे। जबकि रात 8 बजे शहीदों के लिए समर्पित ” वीरांजलि ” कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

21 सितंबर बुधवार को सुबह 10 बजे पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक जबकि 11 बजे राज्यसभा संसदो के साथ बैठक कर जमीनी फीड बैक हांसिल करेंगे। जबकि दोपहर में प्राध्यपको , शिक्षाविदों तथा बुद्धजीवियों को सम्बोधित करेंगे। इस तमाम कार्यक्रम में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा के साथ भाजपा प्रदेश प्रमुख सी आर पाटिल और मुख्यमंत्री उपस्थित रहेंगे।

गुजरात -प्रमुख स्वामी जन्म शताब्दी महोत्सव के कारण एक सप्ताह पहले हो जायेगा चुनाव

Your email address will not be published.