अहमदाबाद में गंदे पानी को लेकर एएमसी कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन

| Updated: May 22, 2022 12:53 pm

पानी के कमी के मुद्दे पर विरोध करने के लिए अहमदाबाद नगर निगम कार्यालय के गेट के पास बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता जमा हो गए थे। शहजाद खान के नेतृत्व में विपक्षी नेता बाल्टी लेकर पानी की मांग के समर्थन में नारे लगा रहे थे। एएमसी पर भारी भीड़ जमा होती देखी गई और रास्ता बंद कर दिया गया. हाय रे बीजेपी हाय .. हाय रे कमिश्नर हाय हाय। साथ ही पानी दो, पानी दो नारे के शोर के बीच आखिरकार एएमसी का मेन गेट बंद कर दिया गया।

इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार अहमदाबाद शहर के कुछ इलाकों में पिछले कुछ समय से पीने का पानी गंदा आ रहा है जिससे घरों में लोग बीमार हो रहे हैं. गंदे पानी के मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी ने आज अहमदाबाद नगर निगम कार्यालय के मुख्य द्वार के पास विरोध प्रदर्शन किया।

एएमसी कार्यालय के बाहर भाजपा विरोधी नारे लगाए

कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोग एकत्र हुए और एएमसी कार्यालय के बाहर भाजपा विरोधी नारे भी लगाए। नगर निगम की घेराबंदी और महापौर ज्ञापन देने के बाद निगम में प्रवेश करने के लिए तीनों गेटों पर पुलिस का कड़ा घेरा बनाया गया था.

अहमदाबाद नगर निगम में विपक्ष के नेता शहजाद खान ने कहा कि नागरिकों को सड़क, नाली और पीने के पानी का प्रावधान नागरिकों का मौलिक अधिकार है. सत्तारूढ़ भाजपा पिछले 10 साल से लोगों को 24 घंटे पानी देने के झूठे वादे करती रही है, लेकिन हकीकत बहुत गंभीर है।

शहर के कई इलाकों में एक घंटे भी पानी नहीं आता

शहर के कई इलाकों में एक घंटे भी पानी नहीं आता। इससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। महनगर पालिका की जल परियोजना के लिए करोड़ों रुपये आवंटित किए जाते हैं। निगम और ठेकेदारों को करोड़ों रुपये दिए जाते हैं लेकिन समस्या का समाधान नहीं होता है।

गंदा जल आने से शहर के कई इलाकों में लोग बीमार हो रहे हैं , बुखार और डायरिया व उल्टी के मरीजों में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। पिछले माह के दौरान शहर के सात अंचलों में अकेले शहरी स्वास्थ्य केंद्र में बुखार के कुल 17793 और डायरिया व उल्टी के 4626 मामले दर्ज किए गए हैं.

खुशखबरी। केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में दी बड़ी राहत

Your email address will not be published.