रक्षा मंत्री ने की ‘अग्निपथ भर्ती योजना’ की घोषणा, शॉर्ट टर्म के लिए सेना में जाने का मौका

| Updated: June 14, 2022 1:15 pm

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस बीच, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अग्निपथ योजना लाएगी। राजनाथ सिंह ने कहा कि अग्निपथ भर्ती योजना के तहत युवाओं को चार साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा। नौकरी छोड़ने पर उन्हें सर्विस फंड पैकेज भी मिलेगा। इस योजना के तहत सेना में शामिल होने वाले युवाओं को अग्निवीर कहा जाएगा।

इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा था कि भारत को भविष्य में युद्ध के लिए पूरी तरह तैयार रहने की जरूरत है और इसके लिए सशस्त्र बलों और नागरिक प्रशासन के बीच बेहतर तालमेल का आह्वान किया. मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में अपने संबोधन के दौरान सिंह ने यूक्रेन में जारी युद्ध का भी उल्लेख किया और इस बात पर जोर दिया कि साइबर और छद्म युद्धों के मद्देनजर सुरक्षा चुनौतियां अब और अधिक जटिल हो गई हैं. उन्होंने कहा कि भारत शांति में विश्वास करता है और ‘‘युद्ध छेड़ना हमारी प्रकृति का हिस्सा नहीं है.”

युवाओं को सेना में चार साल के लिए भर्ती किया जाएगा

इस योजना के तहत शामिल युवाओं को सेना में चार साल के लिए भर्ती किया जाएगा। इस बीच दमकलकर्मियों को आकर्षक वेतन मिलेगा।
सेना में चार साल की सेवा के बाद युवाओं को भविष्य के लिए और अवसर भी प्रदान किए जाएंगे। तीनों सेना प्रमुखों ने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस योजना पर एक प्रस्तुति दी थी। इस योजना के तहत युवा कम समय के लिए सेना में भर्ती हो सकेंगे। इस योजना का नाम अग्निपथ योजना है। जिसके तहत युवा चार साल तक सेना में भर्ती होकर देश की सेवा कर सकेंगे।

विश्व की बेहरतीन सेना बनाने के लिए अग्निपथ योजना ला रहे है

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज ने ‘अग्निपथ भर्ती योजना’ की घोषणा और कहा कि युवाओं के पास शॉर्ट टर्म के लिए सेना में जाने का मौका है. राजनाथ सिंह ने कहा कि पिछले कई सालों में रक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं. सेना को विश्व की बेहरतीन सेना बनाने के लिए अग्निपथ योजना ला रहे है. देश की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए अग्निवीर आएंगे. नौकरी के अवसर बढ़ेंगे. अग्निवीर के अच्छी पे पैकेज की व्यवस्था की गई है. जीडीपी में भी योगदान देंगे. देश को स्किल वाले लोग भी मिलेंगे.

डेढ साल में मिशन मोड़ पर 10 लाख सरकारी भर्ती का प्रधानमंत्री ने दिया निर्देश

Your email address will not be published.