वाइब्स ऑफ इंडिया की ओर से आप सबको 2022 की शुभकामनाएं

| Updated: January 1, 2022 2:56 pm

सिर्फ छह महीने का है वाइब्स ऑफ इंडिया। इस मौके पर यह घोषणा करते हुए हमें खुशी हो रही है कि हमारे यहां विजिटरों की संख्या 800,000 को पार गई है। अब हम आपको 31 मार्च 2022 तक दस लाख का आंकड़ा पार कर लेने का विश्वास दिलाते हैं।

यकीनन हम लड़खड़ाते हुए ही बड़े हुए हैं और रिकॉर्ड तोड़े हैं। मील के नए पत्थर भी स्थापित किए हैं। ऐसे में 2022 हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण वर्ष है। गुजरात में मुख्यालय होने के कारण दुनिया भर का कोई भी पत्रकार यह अच्छी तरह से समझ सकता है कि हम कितनी दृढ़ता से साबित कर रहे हैं कि पत्रकारिता कोई अपराध नहीं है। हमारी मूल कंपनी विरागो मीडिया प्राइवेट लिमिटेड और वाइब्स ऑफ इंडिया में हमारा एक आदर्श वाक्य है- #सिर्फ सच।

हमें आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि गुजरात के सभी 33 जिलों में हमारा पूर्ण नेटवर्क है और इस उपलब्धि को हासिल करने वाले हम एकमात्र डिजिटल मीडिया हैं। हम अंग्रेजी, गुजराती और हिंदी में उपलब्ध हैं। हम गुजरात, व्यापार, प्रवासी, नीति और राजनीति पर तेजी से ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। गुजरात को हमारे जैसा कोई नहीं जानता और हमें इस पर गर्व है। 72 से अधिक लोगों का हमारा परिवार है, जो विभिन्न तौर-तरीकों से जुड़ा हुआ है और अभी भी लगातार बढ़ रहा है।

अत्यधिक व्यावसायिकता, समानता और सत्यनिष्ठा के साथ हमारा लक्ष्य आपके लिए बेहतरीन समाचार लाना है। हमारे लिए 2022 में जो मायने रखता है, वह आप हैं। हम चाहते हैं कि आप भी खुद को प्राथमिकता दें। हम उच्च गुणवत्ता, निष्पक्ष पत्रकारिता करने में विश्वास करते हैं। अगर हमारा समाचार किसी को तिलमिलाता नहीं है, तो इसका मतलब है कि हम जनसंपर्क कर रहे हैं, जो निश्चित रूप से हमारी योजना में नहीं है। हालांकि, हम मानते हैं कि धन बुरा नहीं है। गुजराती उद्यमी दिमाग वाले होते हैं और हम अकेले हैं जो स्टार्ट अप के लिए एक मंच प्रदान करते हैं और जहां उन्होंने पहली बार लाखों कमाया है। वह भी कानूनी तौर पर।

अहमदाबाद मिरर के संपादक के रूप में मैंने देखा है कि समाचार उपभोग के प्रथम माध्यम के रूप में प्रिंट ने नाक में दम कर रखा है। हम जल्द ही न्यूजलेटर के अलावा कई रोमांचक और दिलचस्प चीजें लाने वाले हैं। इसके लिए तैयार रहें! कहना ही होगा कि चूंकि यह साल और पिछला साल स्वास्थ्य को लेकर संजीदा रहा है, इसलिए हम आपके लिए स्वास्थ्य संबंधी बड़ी पहल लाने को तैयार हैं। किसी और के नहीं, बल्कि भारतीय आइकन सपना व्यास के नेतृत्व में।

हम राष्ट्रीय जूरी की देखरेख में लंबे समय तक पढ़े जाने वाले और पहले विशिष्ट पत्रकारिता पुरस्कार भी लाएंगे। साथ रहें। हमें पढ़ते, देखते और सुनते रहें।

टाइम्स ऑफ इंडिया, द इंडियन एक्सप्रेस, द एशियन एज, लोकसत्ता-जनसत्ता, संभव ग्रुप, अभियान मुंबई मिरर और अहमदाबाद मिरर के साथ अपने 31 साल के लंबे जुड़ाव में मैं महान पत्रकारिता की प्रत्यक्ष गवाह रही हूं। लेकिन इन वर्षों में  आप सभी की तरह मैंने भी पत्रकारिता के पेशेवर मानकों के क्षरण को देखा है। यह भी कि कैसे राजनीतिक दलों द्वारा मीडिया में विषाक्तता फैलती है। वाइब्स ऑफ इंडिया की शुरुआत एक मजबूत, स्वतंत्र, गैर-पक्षपाती और संपादकीय रूप से स्वतंत्र मीडिया प्रकाशन होने के उद्देश्य से की गई है। हमारा उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि अच्छी पत्रकारिता न केवल जीवित रहे, बल्कि गुजरात में भी पनपे। हम जनहित के लिए प्रतिबद्ध रहेंगे। एक बात और। यहां यह स्पष्ट करना जरूरी है कि हम कोई कार्यकर्ता नहीं हैं। हमारे लिए आप, कांग्रेस, बीजेपी, टीएमसी, एसपी, बसपा सभी एक ही हैं: राजनीतिक दल। एक्टिविस्ट के रूप में ब्रांडेड होने के बजाय के बजाय हम फैक्टविस्ट बने रहना चाहेंगे, जिसमें

काला, सफेद, भूरा, नीला, केसरिया, हरा की जगह सभी रंगों की पत्रकारिता के लिए जगह बनी रहे। लोकतंत्र हमारा मौलिक अधिकार है। लेकिन हम किसी राजनीतिक दल या विचारधारा के बहकावे में नहीं आने वाले हैं। इसके बजाय, हम पूर्वाग्रह, प्रिज्म और निर्णय के बिना, सही और गलत हर चीज के बारे में एक आधिकारिक आवाज होंगे। लोकतंत्र में, चाहे वह कितना भी झुका हुआ हो, जनता की शक्ति, उनकी सामूहिक समझदारी को कम नहीं किया जा सकता है।

आपसे वादा करते हैं कि हम विनम्र, पेशेवर और मूल रूप से अच्छे बने रहेंगे। अच्छाई एक दुर्लभ वस्तु बन गई है। लेकिन वाइब्स ऑफ इंडिया में हम अच्छे और सहृदय बने रहने की पूरी कोशिश करेंगे। दुनिया को आज इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है। हम कभी-कभी संसाधनों से विवश हो सकते हैं लेकिन मैं आपको विश्वास दिलाती हूं कि हमारी दृष्टि, हमारा मिशन और हमारी मेहनत उस पर भी हावी हो जाएगी।

हमें महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण वाली पहली मीडिया कंपनी होने पर भी गर्व है। पुरुषों के लिए, हम सर्वोत्तम पितृत्व अवकाश और गोद लेने के पैकेज प्रदान करते हैं।  पालतू जानवर है? हम उनके लिए मुफ्त वार्षिक चेक-अप प्रदान करते हैं। निष्ठा को लेकर हम आपसे वादा करते हैं, इसलिए कृपया हमें पढ़ें, हमें देखें, और हमारे बारे में प्रचार करें।

संपूर्ण वाइब्स ऑफ इंडिया परिवार की ओर से मैं आप सबके लिए स्वस्थ, सुखी और समृद्ध 2022 की कामना करती हूं।

दीपल त्रिवेदी

संस्थापक

वाइब्स ऑफ इंडिया

Your email address will not be published.