नवसारी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा आदिवासी मुख्यमंत्री के गांव में मैंने बनवायी पानी की टंकी

| Updated: June 10, 2022 1:37 pm

  • एक तीर से साधे कई निशाने , चुनाव के लिए नहीं लोक कल्याण के लिए जीते हैं
  • जिस आदिवासी क्षेत्र में विज्ञान की स्कूल नहीं होती थी वंहा आज 3000 करोड़ के प्रोजेक्ट का हो रहा लोकार्पण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात की राजधानी से 665 किलोमीटर दूर नवसारी जिले के चीख़ली में गुजरात गौरव सम्मलेन को सम्बोधित करते हुए विपक्ष और गुजरात के एक मात्र आदिवासी मुख्यमंत्री का नाम लिए बिना जमकर प्रहार किये। अब तक जब आदिवासी क्षेत्र में मुख्यमंत्री हुआ करते थे तो इतना बड़ा कार्यक्रम किस्मत में नहीं था। प्रधान मंत्री ने कहा की अतीत में, इस क्षेत्र के एक मुख्यमंत्री थे जिनके गांव में पानी की टंकी नहीं थी। हैंडपंप लगवाते तो बारह महीने में खराब हो जाता था, मैं आया और मैंने उनके गांव में पानी की टंकी बनायीं।

कभी मुझे भूखा नहीं रहना पड़ा

दक्षिण गुजरात के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र जो कुछ महीनों से पार – नर्मदा – ताप्ती रिवर लिंक प्रोजेक्ट , तथा नवसारी -चेन्नई हाइवे प्रोजेक्ट के विरोध के कारण चर्चा में है से अपना नाता जोड़ते हुए प्रधानमंत्री ने कहा की अपनी पुरानी यादों को चबाते हुए उन्होंने कहा, की बहुत दिन बाद चिकली आने का मौका मिला हैं , पुरानी यदि ताजा हो गयी है , एक समय ऐसा था जब मेरे पास यहा आने का कोई साधन नहीं था , बस से उतरकर कंधे में थैला लटका कर मै सालों घुमा हु लेकिन कभी मुझे भूखा नहीं रहना पड़ा। आपका आशीर्वाद ही मेरी ताकत है।

जनजातीय समाज एक ऐसा समाज है जो सामुदायिक जीवन, पर्यावरण की रक्षा करता है

आदिवासी बहनों के बीच काम करने का अवसर मिला। मैंने उनसे इससे कहीं ज्यादा सीखा। साफ-सफाई, , अनुशासन… यहां आदिवासी एक-दूसरे को एक लाइन में फॉलो करते हैं। यह उनके जीवन की रचना है।जनजातीय समाज एक ऐसा समाज है जो सामुदायिक जीवन, पर्यावरण की रक्षा करता है।

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और भाजपा प्रदेश प्रमुख सीआर पाटिल की जोड़ी नया आत्मविश्वास पैदा कर रही है। यहां 5 लाख से ज्यादा लोग मौजूद हैं। मुझे गर्व है कि मेरे साथी वह कर रहे हैं जो मैं अपने कार्यकाल के दौरान नहीं कर सका।आपका प्यार बढ़ रहा है। विकास की इस गौरवशाली परंपरा को सरकार ईमानदारी से निभा रही है।

मुझे 3000 करोड़ के प्रोजेक्ट लोकार्पण करने का मौका मिला है

मुझे 3000 करोड़ के प्रोजेक्ट लोकार्पण करने का मौका मिला है। इन सभी परियोजनाओं से दक्षिण गुजरात के लाखों लोगों का जीवन आसान हो जाएगा।आपको इस विकास योजना के लिए बधाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष को निशाने पर लेते हुए कहा कि आजादी के बाद की सरकार ने विकास को प्राथमिकता नहीं दी। जिस क्षेत्र और वर्ग की जरूरत थी, उनका विकास नहीं हुआ। क्योंकि इसे काम करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। गांव सड़क सुविधाओं से वंचित हैं।अब उन्हें बिजली, शौचालय, गैस कनेक्शन, ज्यादातर आदिवासी परिवार को मिले। आजादी के बाद सबसे गरीब आदिवासी भाई-बहन थे।

टीकाकरण अभियान एक समय गांव तक पहुंचने में सालों लग जाते थे

टीकाकरण अभियान एक समय गांव तक पहुंचने में सालों लग जाते थे। जंगल में कोई जाना नहीं चाहता था , अपनी शैली में लोंगो को शामिल करते हुए उन्होंने पूछा आपको टीका लगाया गया था या नहीं, क्या आपको भुगतान करना पड़ा?

“दूर के जंगलों की चिंता हमारी संस्कृति में है,” उन्होंने कहा। हमारी सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है कि कोई भी आदिवासी या गरीब व्यक्ति योजना के लाभ से वंचित न रहे।

जनजातीय समाज एक ऐसा समाज है जो सामुदायिक जीवन, पर्यावरण की रक्षा करता है।

मेरे साथियों ने वो किया जो मैं अपने समय में नहीं कर सका था

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की सीआर पाटिल के व्यक्तित्व की तारीफ करते हुए कहा की ,चुनाव में सबसे ज्यादा बढ़त के जीतकर साथ सीआर पाटिल ने नवसारी को देश में मशहूर किया है , पाटिल के नेतृत्व में हुए इतने बड़े आयोजन पर गर्व जताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा भूपेंद्र पटेल और सीआर पाटिल की जोड़ी है ऊर्जावान है ,मेरे साथियों ने वो किया जो मैं अपने समय में नहीं कर सका था ,गुजरात गौरव अभियान का हिस्सा बनना मेरे लिए गर्व की बात है ,पिछले दो दशकों में गुजरात के विकास में तेजी आई है ,गुजरात में डबल इंजन सरकार ईमानदारी से आगे बढ़ रही है।

पुरानी सरकारों पर प्रहार करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा “एक बार की बात है गुजरात के मुख्यमंत्री ने जामनगर में एक पानी की टंकी का उद्घाटन किया और गुजरात के अखबारों के पहले पन्ने पर बड़ी खबर छपी।गुजरात ने वो दिन देखे हैं। आज मुझे आदिवासी क्षेत्र में 3,000 करोड़ रुपये की परियोजना का उद्घाटन करते हुए गर्व हो रहा है।

ऐसा कोई हफ्ता नहीं गया जब मैंने कोई विकास कार्य का लोकार्पण नहीं किया हो।

मैं 22 साल से अधिक समय से सरकार में हूं, लेकिन ऐसा कोई हफ्ता नहीं गया जब मैंने कोई विकास कार्य का लोकार्पण नहीं किया हो।
जब मैं 2018 में आया तो लोगों ने कहा, ” लोकसभा चुनाव के लिए यह दिखावा किया जा रहा है ” आज वे गलत साबित हुए हैं , हम चुनाव के लिए नहीं बल्कि लोक हिट के लिए निकले हैं। चुनाव तो हमें लोग जीताते हैं।

जानिए क्या होगा मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन का किराया

Your email address will not be published.