भावनगर के जीत त्रिवेदी ने सिर्फ 1.02 मिनट में आंखों पर पट्टी बांधकर बिछायी शतरंज की बिसात

| Updated: July 1, 2022 7:02 pm

  • कम से कम समय में शतरंज के मोहरो को क्रमवार रखने के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए की दावेदारी
  • भारत में ‘ब्लाइंड फोल्डेड वंडर बॉय’ के नाम से मशहूर जीत त्रिवेदी ने आंखों पर पट्टी बांधकर विभिन्न क्षेत्रों में 7 विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं।
  • भावनगर के मूल निवासी जीत ने आँख पर पट्टी बांधकर 18680 फीट की ऊंचाई पर पर चलाया है स्कूटर

चेन्नई के महाबलीपुरम में होने वाले 44 वें शतरंज ओलंपियाड की मशाल रिले के सूरत पहुंचने पर सूरत के इनडोर स्टेडियम में आयोजित स्वागत समारोह में 2 4 वर्षीय जीत विपुलभाई त्रिवेदी ने शतरंज के 3 2 मोहरों को आंखों पर पट्टी बांधकर शतरंज की बिसात पर 1. 2 मिनट में क्रमवार रखकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए की दावेदारी की हैं । भारत में ‘ब्लाइंड फोल्डेड वंडर बॉय’ के नाम से मशहूर जीत त्रिवेदी ने शतरंज के अलावा विभिन्न क्षेत्रों में 7 विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं।

सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री सी.आर. पाटिल, जिला कलेक्टर श्री आयुष ओक के साथ-साथ खेल विभाग के अधिकारियों, वरिष्ठ प्रशिक्षकों, ग्रैंड मास्टर्स एवं सूरत के विभिन्न विद्यालयों के लगभग 1000 विद्यार्थियों की उपस्थिति में उन्होंने सूरत में विश्व कीर्तिमान स्थापित किया है। जीत की आंखें बंद थीं और उस पर एक रुपया, स्टील की प्लेट और काली पट्टी बंधी हुई थी। तब से, उन्होंने केवल 1.02 मिनट में शतरंज के कुल 32 , 16 सफेद और 16 काले रंग के मोहरों को क्रमवार लगाकर विश्व रिकॉर्ड का दावा किया है । गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के दिशानिर्देशों के अनुसार, रिकॉर्ड स्थापित करने की समय सीमा 1.50 मिनट थी, जिसके खिलाफ जीत में 1.2 मिनट का समय लगा। निर्धारित प्रक्रिया पूरी करने के बाद इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स, लिम्का बुक और इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में जगह मिलेगी।

जीत त्रिवेदी ने इसी साल ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग पूरी की है।

भावनगर के मूल निवासी जीत त्रिवेदी अब सूरत के पालनपुर जकातनाका इलाके में रहते हैं। उन्होंने इसी साल ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग पूरी की है। इस उपलब्धि के बारे में वे कहते हैं, ”मैं पहले ही आंखों पर पट्टी बांधकर विभिन्न क्षेत्रों में 7 विश्व रिकॉर्ड बना चुका हूं.” जिसमें मैंने ब्लाइंड फोल्डेड साइकलिंग, बॉल कैच, सबसे तेज रीडिंग, बैलून ब्लास्ट में7 वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाए हैं। इसके नाम दुनिया की सबसे ऊंची सड़क पर 18680 फीट की ऊंचाई पर आंखों पर पट्टी बांधकर स्कूटर चलाने का रिकॉर्ड भी है। राज्य सरकार के खेल महाकुंभ में शतरंज का खेल जिला स्तर पर तीन बार प्रथम आ चुका है और राज्य स्तर पर भाग ले चुका है।

मैं वर्तमान में इस क्षेत्र में रुचि रखने वाले और सिक्स सेंस को पुनर्जीवित करने के इच्छुक कुशल बच्चों के लिए माइंड पावर डेवलपमेंट के साथ-साथ ब्लाइंड फोल्डेड एक्टिविटीज का प्रशिक्षण ले रहा हूं। इसके अलावा, आंशिक रूप से या पूरी तरह से नेत्रहीन लोग दृष्टि के बिना भी महत्वपूर्ण जीवन गतिविधियों को सिखाने में मदद करते हैं, दृश्य के माध्यम से जीत जोड़ता है।

कोई व्यक्ति पांच मुख्य इंद्रियों में से एक को खो देता है, तो अन्य चार इंद्रियां तेज हो जाती हैं।

जीत का मानना ​​है कि जब कोई व्यक्ति पांच मुख्य इंद्रियों में से एक को खो देता है, तो अन्य चार इंद्रियां तेज हो जाती हैं। नेत्रहीन व्यक्ति के पास दृष्टि न होने पर भी वह कई अन्य क्षेत्रों में स्वाभाविक रूप से कुशल होता है।

उल्लेखनीय है कि फिट इंडिया अभियान के तहत वर्ष 2013 में उन्होंने गांधीनगर के महात्मा मंदिर से अहमदाबाद के साबरमती गांधी आश्रम तक 5 किमी की दूरी सफलतापूर्वक तय की थी। ब्लांइड फोल्ड पेंटिंग में भी कुशल हैं।

क्यों टीका लगाए गए लोगों को भी कोविड संक्रमण का पुनः होता है खतरा?

Your email address will not be published.