ऑस्कर कमेटी में शामिल होने वाले पहले गुजराती बने नलिन पांड्या

| Updated: June 30, 2022 12:20 pm

भारतीय मूल के फिल्म निर्माता नलिन कुमार पांड्या को ऑस्कर अवॉर्ड देने वाली संस्था एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स एंड साइंसेज की 2022 के लिए सदस्यता ऑफर की गई है। यह सदस्यता हासिल करने वाले वह पहले गुजराती होंगे।

अपने चयन के बारे में बात करते हुए पांड्या ने कहा, “मैं सम्मानित और सशक्त महसूस कर रहा हूं। कई साल पहले मैंने एक ऐसा रास्ता चुना, जो काफी कठिन और दृढ़निश्चयी वाला था। आज गौरव का दिन है। मैंने अपने लिए जो किया वह अंततः बड़े पैमाने पर प्रकट हो रहा है। मेरे सिनेमा पर विश्वास करने और मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एकेडमी को धन्यवाद। मैं इस नई शुरुआत को लेकर बेहद उत्साहित हूं। आज से एक नई यात्रा शुरू हो रही है।” उन्होंने कहा, “यह (एकेडमी चयन) मेरे लिए बहुत बड़ी पहचान है। मैं शेष भारत के लिए अनजाना था, लेकिन दुनिया के लिए बहुत पहचाना था। यह बहुत बड़ा सम्मान है। आखिरकार जो मैं अकेले 17 साल से कर रहा हूं, कहीं न कहीं बड़े निर्देशकों की भी यही आवाज है।”

पांड्या का चयन उनके द्वारा निर्देशित दो फिल्मों, “संसार” (2001) और उनकी हालिया गुजराती फिल्म- छेलो शो (द लास्ट फिल्म शो) के आधार पर किया गया है। ऑस्कर वेबसाइट के अनुसार, “ये दोनों फिल्में दुनिया भर में रचनात्मक जादू के क्षण हैं।” उनकी फिल्म ‘द लास्ट फिल्म शो’ सितंबर के बाद भारत में रिलीज होने वाली है। यह अमेरिकी स्टूडियो सैमुअल गोल्डविन फिल्म्स द्वारा अधिग्रहित की जाने वाली पहली भारतीय फिल्म बन गई।

नलिन ने कहा,”मैं बहुत खुश हूं कि मेरी फिल्में दुनिया भर में देखी जाती हैं। लेकिन इससे दुखी हूं कि भारत में किसी को भी मेरी फिल्मों की परवाह नहीं है। उन्हें रिलीज करना बहुत कठिन है। हम मनोरंजन के लिए करते हैं, स्टार से भरे होते हैं, उद्योग आधारित एक तरह का सिनेमा है। मेरे कहने का मतलब यह नहीं है कि यह एक कला घर या त्योहार जैसा है। मेरा मतलब सिर्फ विभिन्न प्रकार के सिनेमा से है।” पांड्या ने कहा, “सबसे दुखद हिस्सा…. मेरी पिछली फिल्म- छेलो शो- के लिए हमारे पास हॉलीवुड के सबसे बड़े वितरक थे। हमारे लिए 40 से अधिक देश उपलब्ध थे, यहां तक कि ताइवान और सिंगापुर जैसे छोटे देश भी थे। लेकिन मेरी फिल्मों के लिए भारत में कोई वितरक नहीं है।”

ऑस्कर की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज संगठन में शामिल होने के लिए 397 कलाकारों और अधिकारियों को निमंत्रण दिया गया है। इनमें पांड्या के साथ तमिल स्टार सूर्या, बॉलीवुड अभिनेत्री काजोल, ऑस्कर-नामांकित वृत्तचित्र निर्माता सुष्मित घोष और रिंटू थॉमस, भारतीय अमेरिकी ‘डेडपूल’ और ‘मर्डर ऑन द ओरिएंट एक्सप्रेस’ की निर्माता आदिया सूद भी हैं।

एकेडमी के बयान में कहा गया है कि उनकी सूची में वे कलाकार और सेलेब शामिल हैं, जिन्हों ने थिएट्रिकल मोशनल पिक्चर में योगदान किया है। सदस्यता का चुनाव करते वक्त प्रोफेशनल योग्यताएं, प्रतिनिधित्व के लिए उनका कमिटमेंट और समर्पण देखा जाता है। कुल 53 देशों के लोगों को सदस्यता का निमंत्रण भेजा गया है। इस बार जिन फिल्मी शख्सियतों को निमंत्रित किया गया है, उनमें से 71 ऑस्कर नॉमिनी और 15 विजेता शामिल हैं।

Your email address will not be published.