महागठबंधन 2.0 में भी नीतीश पावरफुल, अपने पास रखा गृह, तेजस्वी को मिला स्वास्थ्य

| Updated: August 16, 2022 5:58 pm

पटना: बिहार( Bihar) में नीतीश कैबिनेट (Nitish cabinet )का आज विस्तार हुआ. इसी के साथ विभागों का बंटवारा हो गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने गृह विभाग (Home Department) अपने पास ही रखा है. इसके अलावा उनके पास सामान्य प्रशासन, मंत्रिमंडल सचिवालय, निगरानी और निर्वाचन विभाग के पास रहेंगे. इसी के साथ बाकी विभाग जो फिलहाल किसी को आवंटित नहीं हुए हैं, उनकी जिम्मेदारी भी मुख्यमंत्री की होगी. तेजस्वी (Tejashwi Yadav )को स्वास्थ्य विभाग, पथ निर्माण विभाग, नगर विकास एवं आवास विभाग और ग्रामीण कार्य विभाग मिला है.

नीतीश के मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा: 

आरजेडी कोटे से मंत्री तेजप्रताप यादव(Tej Pratap Yadav) को पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग की जिम्मेदारी दी गई. पिछली महागठबंधन सरकार में वे स्वास्थ्य मंत्री थे, लेकिन इस बार यह विभाग उनके छोटे भाई और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Deputy Chief Minister Tejashwi Yadav) ने अपने पास रखा है. जेडीयू के वरिष्ठ नेता विजय चौधरी (Vijay Choudhary) को सबसे अहम विभागों में से एक वित्त विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. बिजेन्द्र प्रसाद यादव (Bijendra Prasad Yadav ) को ऊर्जा मंत्री बनाया गया है. वहीं शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी चंद्रशेखर (chandrashekhar )को दी गई है.

किन मंत्री को कौन से विभाग मिले..

नीतीश कुमार– सामान्य प्रशासन, गृह, मंत्रिमंडल सचिवालय, निगरानी, निर्वाचन

तेजस्वी यादव- स्वास्थ्य, पथ निर्माण, नगर विकास एवं आवास और ग्रामीण कार्य विभाग

विजय कुमार चौधरी- वित्त, वाणिज्य और संसदीय कार्य विभाग

बिजेंद्र प्रसाद यादव- ऊर्जा और योजना एवं विकास विभाग

आलोक कुमार मेहता- राजस्व एवं भूमि सुधार

तेजप्रताप यादव– पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन

मो. आफाक आलम– पशु एवं मतस्य संसाधन

अशोक चौधरी– भवन निर्माण

श्रवण कुमार- ग्रामीण विकास विभाग

सुरेंद्र प्रसाद यादव– सहकारिता विभाग

रामानंद यादव- खान एवं भूतत्व

लेसी सिंह– खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण

मदन सहनी– समाज कल्याण

कुमार सर्वजीत– पर्यटन

ललित यादव– लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण

संतोष कुमार सुमन– अनुसूचित जाति/जनजाति कल्याण

संजय झा– जल संसाधन, सूचना एवं जन संपर्क

शीला कुमारी मंडल– परिवहन विभाग

समीर कुमार महासेठ– उद्योग

चंद्रशेखर- शिक्षा

सुमित कुमार सिंह- विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी

सुनील कुमार– मद्य निषेद, उत्पाद एवं निबंधन

अनिता देवी– पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण

जितेंद्र कुमार राय– कला, संस्कृति एवं युवा

जयंत राज- लघु जल संसाधन

सुधाकर सिंह- कृषि विभाग

मो. जमा खान- अल्पसंख्यक कल्याण

मुरारी प्रसाद गौतम- पंचायती राज

कार्तिक कुमार- विधि

शमीम अहमद- गन्ना उद्योग

शाहनवाज आळम- आपदा प्रबंधन

सुरेंद्र राम– श्रम संसाधन

मो. इसराईल मंसूरी- सूचना प्रोद्योगिकी

इससे पहले, राजभवन में राज्यपाल फागू चौहान( Governor Fagu Chauhan )31 मंत्रियों को शपथ दिलाई. मंत्रियों ने पांच-पांच के समूह में शपथ ली. महागठबंधन में सबसे ज्यादा सीटें होने के चलते कैबिनेट में भी लालू यादव( Lalu Yadav) की पार्टी आरजेडी का दबदबा देखने को मिला. आरजेडी (RJD )के 16 विधायकों ने मंत्रिपद की शपथ ली, जबकि जेडीयू के 11, कांग्रेस के 2, हम को एक और एक निर्दलीय विधायक को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है

नीतीश कुमार कैबिनेट में RJD का रहा दबदबा: 

हसनपुर विधायक तेजप्रताप यादव (यादव), उजियारपुर से विधायक आलोक मेहता (कुशवाहा), नोखा से विधायक अनिता देवी, फतुहा से विधायक रामानंद यादव (यादव), बेलागंज से विधायक सुरेंद्र यादव (यादव), बोधगया से विधायक कुमार सर्वजीत (जाटव), मधुबनी से विधायक समीर कुमार महासेठ, जोकीहाट से विधायक मोहम्मद शाहनवाज (मुस्लिम), मधेपुरा से विधायक चंद्रशेखर (यादव), कार्तिकेय मास्टर, कांटी से विधायक इसराइल मंसूरी (मुस्लिम), रामगढ़ से विधायक सुधाकर सिंह (राजपूत), नरकटिया से विधायक शमीम अहमद (मुस्लिम), गरखा से विधायक सुरेंद्र राम (जाटव), साथ ही जिंतेंद्र राय और ललित यादव को मंत्री बनाया गया हैं.

नीतीश कैबिनेट में जेडीयू कोटे से मंत्री: 

जेडीयू में सरायरंजन से विधायक विजय चौधरी (भूमिहार), चैनपुर से विधायक जमा खान (मुस्लिम), अमरपुर से विधायक जयंत राज (कुशवाहा), भोरे से विधायक सुनील कुमार (जाटव), सुपौल से विधायक विजेंद्र यादव (यादव), एमएलसी संजय झा (ब्राह्मण), एमएलसी अशोक चौधरी (पासी), नालंदा से विधायक श्रवण कुमार (कुर्मी), धमदाहा से विधायक लेसी सिंह (राजपूत), बहादुरपुर से विधायक मदन सहनी (मछुआरा) और फुलपरास से विधायक शिला मंडल(धानुक) को मंत्री बनाया गया है.

कांग्रेस, हम और निर्दलीय सुमित सिंह ने भी ली शपथ:

वहीं, कांग्रेस में चेनारी से विधायक मुरारी गौतम (दलित) और कस्बा से विधायक अफाक अहमद (मुस्लिम) को मंत्री पद दिया गया है. जीतन राम मांझी की पार्टी हम की ओर से संतोष मांझी को मंत्री बनाया गया है. जबकि चकाई विधानसभा से निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह (राजपूत), जिनके दिवंगत पिता नरेंद्र सिंह मुख्यमंत्री के पुराने सहयोगी रहे थे, पिछली सरकार में मंत्री बनाए गए थे, उन्होंने भी शपथ ली.

मंत्रिमंडल में इन पार्टियों को नहीं मिली जगह :

बताया जा रहा है कि कैबिनेट में सीपीआई-एमएल, सीपीआई और सीपीएम को जगह नहीं मिल पाई है. इन पार्टियों को मंत्रिमंडल से बाहर करने पर विरोध के स्वर उठ सकते है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव के 10 लाख रोजगार देने के वादे की पुष्टि की

जानें नीतीश कुमार और भाजपा गठबंधन के बीच क्या चल रहा है?

Your email address will not be published.