Gujarat News, Gujarati News, Latest Gujarati News, Gujarat Breaking News, Gujarat Samachar.

Latest Gujarati News, Breaking News in Gujarati, Gujarat Samachar, ગુજરાતી સમાચાર, Gujarati News Live, Gujarati News Channel, Gujarati News Today, National Gujarati News, International Gujarati News, Sports Gujarati News, Exclusive Gujarati News, Coronavirus Gujarati News, Entertainment Gujarati News, Business Gujarati News, Technology Gujarati News, Automobile Gujarati News, Elections 2022 Gujarati News, Viral Social News in Gujarati, Indian Politics News in Gujarati, Gujarati News Headlines, World News In Gujarati, Cricket News In Gujarati

गुजरात के 16 शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज में 1004 पद रिक्त

| Updated: March 6, 2023 19:35

गुजरात के कुल 16 शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज College of Engineering में 1004 पद रिक्त हैं। जिसमे सबसे ज्यादा पद वर्ग 1 के हैं। वर्ग 1 के लिए मंजूर 535 पदों में से केवल 226 पद भरे गए हैं। जबकि रिक्त पदों की संख्या 308 हैं। इसी तरह वर्ग 2 ,3 और 4 के रिक्त पदों की कुल संख्या मंजूर पदों की संख्या में से आधे से अधिक खाली हैं। केवल वर्ग 2 में रिक्त पद और मंजूर पद का अनुपात कम है। वर्ग 2 में 1467 पद रिक्त हैं जिसमे 1287 पद भरे हैं।

गुजरात विधानसभा में कांग्रेस विधायक एक के बाद एक मुद्दे उठाकर सरकार को घेरने की कोशिश कर रहे हैं। सदन में आज कांग्रेस विधायक शैलेश परमार ने सरकार से सवाल किया कि राज्य में कितने सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज हैं और कितने संस्थान स्वीकृत हैं. साथ ही कितने पद किन कारणों से खाली हैं। उनके सवाल के जवाब में सरकार ने लिखित जवाब दिया।

इस मामले पर जवाब देते हुए सरकार ने कहा कि राज्य में कुल 16 सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज हैं. जिसमें पदत्याग, आयु सेवानिवृत्ति, स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति एवं अन्य कारणों से रिक्तियां हैं। सरकार ने जवाब में कहा कि प्रथम श्रेणी के 535 पदों में से कुल 226 भरे जा चुके हैं। जबकि 308 पद खाली हैं। वर्ग 2 के कुल 1467 पदों में से कुल 1287 पद भरे जा चुके हैं और 189 पद अब भी खाली हैं। तृतीय श्रेणी के 478 पदों में से 168 पद भरे जा चुके हैं और 310 पद अब भी खाली हैं। वहीं वर्ग 4 के लिए कुल 265 पदों में से 68 भरे जा चुके हैं और अभी भी 197 पद रिक्त हैं।

गुजरात परीक्षा कदाचार निवारण अधिनियम को राज्यपाल ने दी मंजूरी

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: