अरविंद केजरीवाल का गुजरात में एक और चुनावी वादा, महिलाओं को 1,000 रुपये प्रति माह

| Updated: August 11, 2022 2:11 pm

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party ) के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ( Arvind Kejriwal) ने बुधवार को घोषणा की कि 18 वर्ष से ऊपर महिलाओं को 1,000 हर माह दिया जायेगा भाजपा ( BJP )के रेवड़ी करार दिए जाने पर प्रतिकार करते हुए कहा यह फ्री रेवड़ी नहीं बल्कि “लोगों का पैसा है, जो कि उनका अधिकार है” ।

राज्य में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव (assembly elections ) होने हैं। अहमदाबाद (Ahmedabad) के एक टाउनहॉल में दिल्ली के मुख्यमंत्री ( Delhi’s chief minister) अरविंद केजरीवाल ने कहा, “हम पहले ही चार गारंटी दे चुके हैं और यह पांचवीं गारंटी (Guarantee ) है जो हम महिलाओं के लिए दे रहे हैं … आप के सरकार बनने के बाद गुजरात ( Gujarat )में 18 साल से ऊपर की सभी महिलाएं, को हर महीने 1,000 रुपये दिए जाएंगे…”

प्रधानमंत्री ( Prime minister) पर निशाना साधते हुए, जिन्होंने हाल ही में चुनाव पूर्व वादों को “मुफ्त रेवड़ी “(free Rewadi ) के रूप में वर्णित किया, केजरीवाल ने कहा, “वे कहते हैं कि यह मुफ्त रेवड़ी है … (लेकिन) यह आपका अधिकार है, यह मुफ्त नहीं है। यह तुम्हारा पैसा है; आपको इसे वापस लेना चाहिए, इसे स्विस बैंकों ( Swiss banks )में नहीं जाना चाहिए।”

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ( UP CM Yogi Adityanath) की 60 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को राज्य बसों में मुफ्त यात्रा ( free tour )प्रदान करने की घोषणा पर एक सवाल के जवाब में, केजरीवाल ने कहा, “प्रधानमंत्री ने केवल इतना कहा है कि कोई मुफ्त नहीं होना चाहिए, और योगी जी ने कहा है कि वह मुफ्त देंगे । हो सकता है कि दोनों के बीच कुछ अनबन हो गई हो। उनसे (यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ) पूछा जाना चाहिए कि वह अपने बॉस के खिलाफ क्यों गए।

महिलाओं को मासिक वित्तीय सहायता देने के आप के वादे पर केजरीवाल ( Arvind Kejriwal) ने कहा, “मैं ऐसी कई बेटियों को जानता हूं… जो स्मार्ट हैं और कॉलेजों में दाखिला ले चुकी हैं… । एक हजार रुपये से वे अपनी पढ़ाई पूरी कर सकेंगे। कई विवाहित महिलाएं हैं जिन्हें इस महंगाई के बीच अपना घर चलाना पड़ता है ।

“हमारी माताएँ… घर आने पर अपनी बेटियों को कुछ पैसे देने का मन करती है… लेकिन उन्हें अपने बेटों और पतियों पर निर्भर रहना पड़ता है। यह निर्भरता खत्म हो जाएगी अगर उनके पास यह 1,000 रुपये है। महिलाओं को एक हजार रुपये देने से आर्थिक स्थिति पर काफी असर पड़ेगा…’केजरीवाल ( Arvind Kejriwal) ने कहा कि अगर आम आदमी (Common Man )को पैसा दिया जाता है, तो वे अधिक खर्च करेंगे, उत्पादन और मांग बढ़ेगी और इससे आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

सुनील बंसल को 3 प्रमुख राज्यों का जिम्मा ,बिहार में लगे झटके की भरपाई के लिए भाजपा में बदलाव

Your email address will not be published.