पेगासस मामले में गृहमंत्री के इस्तीफ़े की मांग के साथ देशभर में कांग्रेस का प्रदर्शन

| Updated: July 23, 2021 7:05 pm

इजरायल के सॉफ्टवेयर पेगासस के जरिए राजनेताओं, पत्रकारों और वरिष्ठ अधिकारियों की कथित जासूसी पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई है। गुजरात कांग्रेस ने आज गांधीनगर के राजभवन में विरोध प्रदर्शन किया। इनमें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा, विपक्ष के नेता परेश धनानी और पूर्व अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी शामिल थे। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने केंद्र और राज्य सरकार की मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस ने कांग्रेस विधायकों और कार्यकर्ताओं को पुलिस गेट पर हिरासत में भी लिया है। गुजरात कांग्रेस के आठ नेताओंने पूरे मामले को लेकर राज्यपाल से मुलाकात कर आवेदन पत्र भेजा है.

बाद में गांधीनगर सर्किट हाउस में कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा ने कहा, ”पूरे जासूसी मामले पर प्रधानमंत्री को देशवासियों से माफी मांगनी चाहिए. देश के नागरिकों की सुरक्षा, और निजता बनाए रखना गृह मंत्री की जिम्मेदारी है. अमेरिका के वाटरगेट कांड से भी बड़ा यह कांड है । सरकार जवाब देती क्यू नहीं की क्या सॉफ्टवेयर आधिकारिक तौर पर इज़राइल से खरीदा गया है ? और इसके उपयोग और लागत के बारे में भी जानकारी लेने का हमारा अधिकार है। अमित चावड़ा ने कहा, ‘गुजरात में पहले भी फोन से छेड़छाड़ की कई घटनाएं हो चुकी हैं।

कांग्रेस ने कहा कि बीजेपी ने इसी तरह से विधायकों के फोन रिकॉर्ड कर मध्य प्रदेश और कर्नाटक में सरकार बनाई है. कांग्रेस ने नेताओं के फोन कॉल रिकॉर्ड करने का भी आरोप लगाया है। अमित चावड़ा ने कहा कि मोदी सरकार में मंत्री रह चुके रविशंकर प्रसाद ने भी कहा कि जासूसी दूसरे देशों में भी होती है, यानी सरकार खुद मानती है कि जासूसी हुई है. कांग्रेस पार्टी ने पूरे मामले की न्यायिक जांच की मांग की है.

कांग्रेस ने आज संसद परिसर में गांधी जी की प्रतिमा के सामने धरना भी दिया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीरंजन चौधरी, राज्यसभा में विपक्ष नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, शशि थरूर, शक्तिसिंह गोहिल और कई अन्य लोग विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।

इस मुद्दे पर कांग्रेस देशभर में प्रदर्शन कर रही है। उन्होंने इस मुद्दे पर कर्नाटक में हिंसक विरोध भी किया। इसमें कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष डी. के शिवकुमार और विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने भाग लिया। तेलंगाना में, राज्य कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भारी बारिश में विरोध प्रदर्शन किया। तेलंगाना कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को भी हिरासत में लिया गया। तमिलनाडु में कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के. एस अलागिरी के नेतृत्व में कांग्रेस ने प्रदर्शन किया। इसमें बड़ी संख्या में कांग्रेस विधायक और पार्षद शामिल हुए।

पुडुचेरी में कांग्रेस ने बीजेपी और मोदी सरकार का विरोध किया. पुडुचेरी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष ए.वी. सुब्रमण्यम ने प्रधानमंत्री मोदी पर जमकरनिशाना साधा।

इस सॉफ्टवेयर से अब तक देश में 300 मोबाइल फोन हैक किए जा चुके हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, पूर्व चुनाव आयुक्त अशोक लवासा, मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री अश्विन वैष्णव, पूर्व मंत्री प्रह्लाद जोशी, पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई पर यौन उत्पीड़न के आरोप करने वाली युवती की जासूसी करने का आरोप लगा है. पत्रकारों, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट के जजों के फोन भी हैक कर लिए गए हैं।

Your email address will not be published.