बारिश से पीड़ितों के मदद की सी आर पाटिल ने निर्वाचित जनप्रतिनिधियों , कार्यकर्ताओ से की अपील

| Updated: July 11, 2022 4:10 pm

गुजरात में भारी बारिश के बीच भाजपा प्रदेश प्रमुख सी आर पाटिल ने सभी सांसदों , विधायकों , जिला पंचायत सदस्यों और भाजपा के कार्यकर्ताओ से लोंगो के बीच रहने और पीड़ितों के मदद की अपील की है , साथ ही जरुरत पड़ने पर भाजपा मुख्यालय से संपर्क करने की अपील की है।वही इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के साथ टेलीफोन पर बातचीत की और गुजरात में व्यापक और भारी बारिश से बनी विकट स्थिति के बारे में जानकारी ली।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ने भाजपा महासचिव जिलाध्यक्ष, एमपी एमएलए और भाजपा पदाधिकारियों, नेताओं सहित 200 से अधिक नेताओं के साथ तत्काल वर्चुअल बैठक की और उन सभी से मौजूदा बारिश की स्थिति की जानकारी ली . साथ ही सभी जिलों को फ़ूड पैकेट समेत अन्य आवश्यक सुविधाएं प्रभावितों तक पहुंचने के निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री ने पिछले 48 घंटों में दक्षिण और मध्य गुजरात क्षेत्र में हुई भारी बारिश और उससे उत्पन्न स्थिति के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी को पूरी जानकारी दी।


प्रधानमंत्री ने आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार इस बरसात की स्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ सहित सभी आवश्यक मदद के लिए राज्य के बारिश प्रभावित लोगों के पक्ष में होगी। गुजरात में मॉनसून की पहली दस्तक ने ही प्रशासन की साँस फुला दी है।

सभी जिलों में बारिश हुई है. अहमदाबाद में कल हुई भारी बारिश से पूरा शहर जलमग्न हो गया है. पिछले 24 घंटे में राज्य के सभी जिलों में बारिश हुई है. छोटाउदेपुर के बोडेली में राज्य में सबसे ज्यादा 22 इंच बारिश हुई है. छोटाउदेपुर में कोटा 17.5 इंच, पंचमहल में जंबुघोड़ा 17 इंच और छोटाउदपुर में पावी जेतपुर 16 इंच हुआ।

पालड़ी में 18 इंच, उस्मानपुरा में 15 इंच, बोडकदेव में 13 इंच बरसात

पालड़ी में 18 इंच, उस्मानपुरा में 15 इंच, बोडकदेव में 13 इंच, जोधपुर में 12 इंच, बोपल में 12 इंच, मुक्तमपुरा में 12 इंच, गोता में 8 इंच और चांदलोडिया में 7 इंच बरसात हुयी ।

अहमदाबाद में औसतन 8 इंच बारिश हुई है।इसके अलावा डांग का सुबुरा में साढ़े आठ इंच, नर्मदा के तिलकवाड़ा में साढ़े पांच इंच, पंचमहल का हलोल साढ़े पांच इंच, सूरत का उमरपाड़ा पांच इंच, मोरबी पांच इंच, नवसारी का खेरगाम है पाँच इंच, खेड़ा पाँच इंच, नर्मदा के गुरुडेश्वर में पांच इंच, खेड़ा वास में चार इंच ,डभोई में चार इंच बरसात हुयी।

आणंद में भी चार इंच बरसात हुयी है।राज्य में एनडीआरएफ की 13 टीमें और एसडीआरएफ की 16 प्लाटून इस समय प्रदेश में तैनात हैं। छोटा उदयपुर में वडोदरा से एसडीआरएफ की 1 प्लाटून मदद के लिए भेजी गई है।

नवसारी में एनडीआरएफ की 2 टीमें, गिर सोमनाथ और सूरत में एनडीआरएफ की 1-1 टीम, राजकोट, बनासकांठा और वलसाड में एनडीआरएफ की 1-1 टीम, 1-1 टीम भावनगर, कच्छ और अमरेली में एनडीआरएफ की टीम और जामनगर, द्वारका और जूनागढ़ में एनडीआरएफ की 1-1 टीम तैनात की गई है.

मुख्यमंत्री ने की समीझा


भूपेंद्र पटेल ने दक्षिण गुजरात और विशेष रूप से छोटाउदपुर, नवसारी और वलसाड में भारी बारिश पर एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की। राजकोट जिले के दौरे से लौटकर वह हेलीपैड से सीधे गांधीनगर स्थित स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर पहुंचे।उन्होंने विशेष रूप से 6 जिलों में हुई भारी बारिश की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गांधीनगर स्थित स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर के कंट्रोल रूम से सीधे छोटा उदयपुर जिला अधिकारी से बात कर हालात की समीझा की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल से की फ़ोन पर बात , बारिश के हालात से हुए अवगत

Your email address will not be published. Required fields are marked *