गिरफ्तार आईएएस अधिकारी के साथ अमित शाह की तस्वीर दिखाने पर अविनाश दास के खिलाफ एफआईआर

|India | Updated: May 16, 2022 8:10 pm

अहमदाबाद पुलिस की अपराध शाखा (डीसीबी) इकाई ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की अधिकारी पूजा सिंघल के साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर दिखाने के लिए फिल्म निर्माता अविनाश दास के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। बता दें कि झारखंड कैडर की आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल को हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया है।

शिकायत में पुलिस ने कहा है कि दास ने कथित तौर पर लोगों को गुमराह करने और अमित शाह की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने करने के लिए तस्वीर साझा की। फोटो में शाह और सिंघल को 2017 में रांची में एक जनसभा में एक-दूसरे से बात करते हुए दिखाया गया है।

ईडी ने 11 मई को झारखंड खनन विभाग की सचिव और आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था। उन पर 2009-10 के दौरान खूंटी जिले में उपायुक्त (डीसी) रहने के दौरान मनरेगा के फंड के डायवर्जन में शामिल होने का आरोप लगाया गया है। ईडी ने ने सिंघल से कथित रूप से जुड़े एक चार्टर्ड अकाउंटेंट के घर से 18 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी भी जब्त की थी।

इसके अलावा, ‘अनारकली ऑफ आरा’ के निर्देशक पर भी राष्ट्रीय ध्वज का कथित रूप से अपमान करने का आरोप लगाया गया है, जब उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर तिरंगा पहने एक महिला की तस्वीर पोस्ट की थी।

अहमदाबाद डीसीबी इकाई ने बयान जारी कर कहा, “डीसीबी के तकनीकी पीएसआई केपी पटेल के ध्यान में लाया गया था कि अविनाश दास नाम के एक व्यक्ति ने एक महिला की एक अश्लील पेंटिंग साझा की थी, जिसमें 17 मार्च को उस पर तिरंगा लिपटा दिखाया गया था। इसके अलावा, 8 मई को दास ने लोगों को गुमराह करने और गलत इरादे से शाह की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के लिए अपने ट्विटर अकाउंट से आईएएस पूजा सिंघल के साथ अमित शाह की पांच साल पुरानी तस्वीर साझा की थी। उस संबंध में दास के खिलाफ आईपीसी 469 के तहत जालसाजी और आईटी अधिनियम की धारा 67 और राष्ट्रीय सम्मान के अपमान की रोकथाम अधिनियम की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। ”

Your email address will not be published.