नेताजी के जन्मदिन पर मोदी ने परमवीर चक्र विजेताओं के नाम पर रखे 21 अंडमान द्वीपों के नाम

| Updated: January 23, 2023 7:24 pm

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पराक्रम दिवस पर अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में नेताजी सुभाष चेंद्र बोस को समर्पित द्वीप पर बनने वाले स्मारक के मॉडल का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये अनावरण (unveiled) किया। कहा कि इससे लोगों में देशभक्ति की भावना का संचार होगा। मोदी ने नेताजी की 126वीं जयंती के अवसर पर केंद्र शासित प्रदेश के 21 द्वीपों के नाम परमवीर चक्र विजेताओं के नाम पर रखे।

प्रधानमंत्री ने कहा, “आज यह मेरे लिए गर्व का क्षण है कि मैं अंडमान के लोगों को संबोधित कर रहा हूं। यह वह भूमि है, जहां सुभाष चंद्र बोस ने 1943 में पहली बार राष्ट्रीय ध्वज फहराया था।”

उन्होंने कहा कि द्वीपों के नाम मेजर सोमनाथ शर्मा, लेफ्टिनेंट कर्नल (तत्कालीन मेजर) धन सिंह थापा, सूबेदार जोगिंदर सिंह,  मेजर शैतान सिंह, कंपनी क्वार्टरमास्टर हवलदार अब्दुल हामिद, सेकेंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल और फ्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों सहित प्रसिद्ध सैनिकों के नाम पर रखे गए हैं। मोदी ने कहा, “परम वीर चक्र पुरस्कार विजेताओं के नाम पर आज द्वीपों का नाम आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा के स्रोत होंगे।”

पीएम ने यह भी कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में नेताजी के योगदान को कम करने की कोशिश की गई। लेकिन दिल्ली और बंगाल से लेकर अंडमान निकोबार द्वीप समूह तक पूरा देश आज महान नायक को श्रद्धांजलि दे रहा है। उनसे जुड़े इतिहास और विरासत को सहेज रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि नेताजी की फाइलों को सार्वजनिक करने की मांग कई लोग लंबे समय से कर रहे थे। लेकिन  यह उनकी सरकार थी, जिसने आखिरकार फाइलों को सार्वजनिक किया।

उन्होंने कहा कि नेताजी को औपनिवेशिक शासन के प्रति उनके उग्र प्रतिरोध के लिए याद किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने सोमवार को स्मारक के जिस मॉडल का अनावरण, उसे रॉस द्वीप पर स्थापित किया जाएगा। इसका नाम बदलकर 2018 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वीप कर दिया गया था। एक अधिकारी ने कहा कि इसमें एक म्यूजियम, एक केबल कार रोपवे, एक लेजर-एंड-साउंड शो, ऐतिहासिक इमारतों के माध्यम से एक निर्देशित विरासत मार्ग और एक थीम-आधारित बच्चों का मनोरंजन पार्क होगा।

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 21 द्वीपों के नामकरण की पहल की सराहना की। कहा कि यह प्रयास देश के सशस्त्र बलों के लिए प्रोत्साहन का स्रोत होगा। उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में सेलुलर जेल किसी “तीर्थ स्थल” से कम नहीं है। इस जेल में कई स्वतंत्रता सेनानियों को कैद किया गया था।

परमवीर चक्र पुरस्कार विजेताओं के नाम वाले द्वीपों की सूची:

• लेफ्टिनेंट कर्नल (तत्कालीन मेजर) धन सिंह थापा के नाम पर धन सिंह द्वीप

•लेफ्टिनेंट कर्नल अर्देशिर बुर्जोरजी तारापोर के नाम पर तारापुर द्वीप

• लांस नायक करम सिंह के नाम पर करम सिंह द्वीप

• नायब सूबेदार बाना सिंह के नाम पर बाना द्वीप

• लांस नायक अल्बर्ट एक्का के नाम पर एक्का द्वीप

• सेकेंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल के नाम पर खेत्रपाल द्वीप

•लेफ्टिनेंट मनोज कुमार पांडेय के नाम पर पांडे द्वीप

• मेजर होशियार सिंह के नाम पर होशियार द्वीप

• मेजर शैतान सिंह के नाम पर शैतान द्वीप

• नायक जदुनाथ सिंह के नाम पर जदुनाथ द्वीप

• सूबेदार मेजर योगेंद्र सिंह यादव के बाद योगेंद्र द्वीप

• कंपनी क्वार्टरमास्टर हवलदार (CQMH) अब्दुल हमीद के नाम पर हामिद द्वीप

• सेकेंड लेफ्टिनेंट रामा राघोबा राणे के नाम पर राणे द्वीप

• मेजर रामास्वामी परमेश्वरन के नाम पर रामास्वामी द्वीप

• कैप्टन विक्रम बत्रा के नाम पर बत्रा द्वीप

• सूबेदार जोगिंदर सिंह के नाम पर जोगिंदर द्वीप

• कैप्टन जीएस सलारिया के नाम पर सलारिया द्वीप

• कंपनी हवलदार मेजर पीरू सिंह के नाम पर पीरू द्वीप

• मेजर सोमनाथ शर्मा के नाम पर सोमनाथ द्वीप

• फ्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों के नाम पर सेखों द्वीप

• सूबेदार मेजर (तत्कालीन रायफल मैन) संजय कुमार के नाम पर संजय द्वीप।

और पढ़ें: राजस्थान में अत्यधिक शीत लहर के साथ घिरे बादल

Your email address will not be published. Required fields are marked *