गुजरात शिक्षा मंत्री के निर्वाचन क्षेत्र में प्राथमिक विद्यालय का पेपर लीक

| Updated: April 22, 2022 5:31 pm

गुजरात में ज्ञान की देवी सरस्वती की तुलना में धन की देवी लक्ष्मी हमेशा लोगों की एक इष्ट देवी रही हैं। पेपर लीक के ताज़ा मामले कुछ भी हो, लेकिन गुजरात की शिक्षा का पहले से ही धूमिल इतिहास और धूमिल होता जा रहा है। प्राइमरी स्कूल में पेपर लीक होना खाई में गिरने से कम नहीं है। शर्म की बात यह है कि यह घटना जिले के शिक्षा मंत्री जीतू वाघाणीके निर्वाचन क्षेत्र के स्कूल में हुई है।

भावनगर जिले के तलजा तालुका के नेसवड़ गांव में स्थित प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि कक्षा 6 से 8 के परीक्षा पत्र चोरी हो गए हैं। जिसके बाद 22 और 23 अप्रैल को होने वाली परीक्षाओं को रद्द करने के लिए स्कूल को मजबूर होना पड़ा।

गुजरात हाल ही में एक के बाद एक पेपर लीक घोटालों (paper leak scams) की एक श्रृंखला से हिल चुका है, जिसने सरकार की प्रतिष्ठा और अखंडता को दांव पर लगा दिया है। कुछ दिनों पहले कक्षा 10 की स्कूल बोर्ड परीक्षा में हिंदी का पेपर लीक हुआ था। वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय में बीकॉम सेमेस्टर 6 के लिए अर्थशास्त्र परीक्षा का पेपर भी लीक हो गया था।

हाल के दिनों में गुजरात में पेपर लीक घोटाले के कई मामले सामने आए हैं: 

(1) जीपीएससी 2013 के मुख्य अधिकारी की भर्ती
(2) राजस्व तलाटी भर्ती परीक्षा: 2014 

(3) मुख्य नर्स: 2018 डिप्टी चिटनिस 2018 

(4) पुलिस लोकरक्षक दल, 2018 

(5) शिक्षक पात्रता परीक्षा, 2018 

(6) गैर-सचिवालय लिपिक, 2019 

(7) डीजीवीसीएल में विद्युत सहायक की भर्ती: जुलाई, 2021 

(8) सब-ऑडिटर अक्टूबर, 2021 

(9) हेड क्लार्क- दिसंबर, 2021

LRD पेपर लीक (LRD paper leak) ने सत्तारूढ़ पार्टी की छवि को काफी खराब किया था। लोगों में कुप्रबंधन और बड़े नामों की मिलीभगत की धारणा के खिलाफ काफी गुस्सा है। 

प्राचार्य द्वारा की गई पुलिस शिकायत के अनुसार, नेसवड़ गांव के प्राथमिक विद्यालय में रात में तोड़फोड़ की गई और कक्षा 6 से 8 के प्रश्न पत्र चोरी हो गए। भावनगर एलसीबी और एसओजी डॉग स्क्वायड ने उपलब्ध सुरागों के आधार पर जांच शुरू कर दी है। हालांकि अन्य मानक परीक्षाएं यथावत जारी रहेंगी, शिक्षा विभाग ने संबंधित मानकों के लिए परीक्षा रद्द कर दी है।

Your email address will not be published.