पिता ने सिलाई कर बेटी का किया निकाह , लेकिन पति से सवा घंटे की बातचीत ने आयशा को दुनिया छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया

| Updated: April 28, 2022 4:10 pm

25 फरवरी 2021 को आयशा ने मुस्कान के साथ इस नश्वर दुनिया को अलविदा कह दिया। आयशा की आत्महत्या आज हमारे समाज की संकीर्ण मानसिकता को दर्शाती है। आयशा के सुसाइड की बात तो खूब होती थी लेकिन आज हम आयशा की जिंदगी के उन पहलुओं के बारे में बात करने जा रहे हैं जिनसे लोग अनजान हैं। आयशा ने आखिरी वीडियो साबरमती रिवरफ्रंट पर वॉकवे पर बैठकर बनाया था। वीडियो में आयशा ने आखिरकार अपने पति आरिफ से 72 मिनट की बातचीत की और उस वीडियो में आरिफ, आयशा के आत्महत्या करने को लेकर उत्साहित नजर आ रहा था.

अहमदाबाद शहर के वटवा इलाके की रहने वाली आयशा को इस बात का पता चला कि वह अपने पति की असहनीय यातना के कारण इस दुनिया को छोड़कर चली गई है. जिस दिन आयशा ने इस दुनिया को छोड़ने का फैसला किया, उस दिन आयशा अपने माता-पिता से मिलने के लिए सुबह 9 बजे घर से निकली और उसके चेहरे पर मुस्कान थी। वह पहले ही घर से सीधे ऑफिस पहुंच चुकी थी और ऑफिस में बैठकर उसे अपनी दुनिया फिर से बसाने का ख्याल आया इसलिए उसने अपने पति आरिफ को फ़ोन किया । फोन पर आरिफ से 72 मिनट तक बात की। आरिफ पर आयशा को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप था।

आरिफ ने आयशा से फोन पर कहा, ”कल मरोगी तो आज ही मर जाओ . तुम मर जाओ तो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन मरने से पहले मुझे एक वीडियो भेज दो और मेरा नाम बीच पर न आए।”

आरिफ की बात सुनकर आयशा चौंक गई और उसने सीधे अपने पिता को फोन किया और उसे सारी बातचीत बताई। अपने पिता से फोन पर बात करते हुए आयशा ने कहा कि आरिफ किसी बात पर विश्वास नहीं कर रहा। वह मुझे साथ नहीं रखना चाहता। इसलिए मैं दुनिया से तंग आ चुकी हूं। मैं जीना नही चाहती । आयशा के पिता लियाकत अली ने भी बेटी को समझाया और घर लौटने को कहा। हालांकि, आयशा ने अपने पति की बातों से दुखी होकर घर जाने के बजाय मरने का फैसला किया।

आयशा के पिता लियाकत अली मकरानी ने कहा कि मेरी बेटी की शादी के दो महीने बाद ही उसका पति आरिफ उससे अक्सर झगड़ा करता था। आयशा के ससुराल वाले भी उसे दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। हालाँकि, आयशा चुप रही और अपनी दुनिया को बचाने के लिए सब कुछ सहा। आयशा को पता चला कि उसके पति आरिफ का दूसरी लड़की से अफेयर चल रहा है। इस बात की जानकारी आयशा ने अपनी सास-ससुर को दी। आरिफ की मां भी उसके बेटे को समझाने के बजाय आयशा को प्रताड़ित करने लगी।

इतना ही नहीं पति आरिफ और ससुराल वाले उसको दहेज लाने के लिए मजबूर कर रहे थे। उसके पिता ने भी उसको शादीशुदा जिंदगी को बचाने के लिए 1.50 लाख रुपये दिए। फिर भी, एक का मालिक होना अभी भी औसत व्यक्ति की पहुंच से बाहर है। आखिरकार दहेज को लेकर विवाद बढ़ गया और आरिफ ने आयशा को उसके पिता के घर अहमदाबाद छोड़ दिया। जहां कुछ दिनों बाद समाज के नेताओं ने मध्यस्थता की और दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया.

आयशा पिछले 6 महीने से अपने पिता के घर पर थी । उसने अपने दुखी वैवाहिक जीवन को भुलाने के लिए अपनी जिंदगी की नए सिरे से शुरुआत करना चाहती थी । आयशा एक महीने से शाहीबाग में एक निजी कंपनी में काम कर रही थी।

आयशा ने भी पढ़ाई में टॉप किया है

आयशा पढ़ने में होशियार थी , आधुनिक शिक्षा के साथ उसने दीनी तालीम (धर्म की भी शिक्षा ) ली थी । उसने बीए तक की पढ़ाई की है और आगे की पढ़ाई भी करना चाहती है। हालांकि, शादी तय होने के बाद, आयशा के पति ने उसे आगे पढ़ाने की बात से मुकर गया ।

पसंद से शादी

आयशा का परिवार पिछले कुछ सालों से अहमदाबाद के वटवा इलाके में रह रहा है और उसके पिता दर्जी हैं। राजस्थान में रहने वाले एक परिचित के यंहा आरिफ और आयशा की मुलाकात हुई। जिसके बाद आरिफ ने बड़ी बात की और अपने प्यार के जाल में फंसा लिया। आरिफ के माता-पिता भी आयशा को पसंद करते थे और आखिरकार दोनों ने खुशी-खुशी शादी कर ली।

राजस्थान से आयशा का आखिरी वीडियो वायरल

आयशा ने एक वीडियो बनाया और अहमदाबाद के रिवरफ्रंट पर कूदकर अपनी जान दे दी। वीडियो को उसने अपने पति आरिफ को भेजा था। उसके के पिता लियाकत अली का कहना है कि वीडियो आरिफ के बचाव में वायरल हुआ था

अहमदाबाद महानगर पालिका खरीदेगी 50 और इलेक्ट्रिक बस, बढ़ेंगे चार्जिंग पॉइंट

Your email address will not be published.