नेटफ्लिक्स, अमेज़न के साथ भिड़ने को तैयार हैं एशिया के दो सबसे अमीर- गौतम अडानी और मुकेश अंबानी

| Updated: April 29, 2022 9:06 am

एशिया के दो सबसे अमीर आदमी यानी गौतम अडाणी और मुकेश अंबानी भारत के मीडिया क्षेत्र पर दोहरी मार कर रहे हैं। एक ऐसे क्षेत्र में मुकाबला तेज कर रहे हैं, जहां नेटफ्लिक्स इंक और अमेजन डॉट कॉम इंक एक अरब से अधिक दर्शकों के लिए भी होड़ कर रहे हैं।

पैरामाउंट ग्लोबल के साथ अंबानी का स्थानीय संयुक्त उद्यम वायकॉम18 मीडिया प्राइवेट जेम्स मर्डोक की अगुआई वाले बोधि ट्री सिस्टम्स से 135 बिलियन रुपये (1.8 बिलियन डॉलर) प्राप्त करने की कोशिश में है। अडाणी समूह की प्रमुख कंपनी अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने अलग से कहा कि उसने एक नई मीडिया सहायक कंपनी की स्थापना की है, जो बढ़ते बाजार का दोहन करने की उसकी महत्वाकांक्षाओं का संकेत देती है।

वायकॉम18 का निवेश और मीडिया में अडाणी का प्रवेश एक मजबूत स्थानीय फिल्म उद्योग, बढ़ते मध्यम वर्ग और तेजी से इंटरनेट तक पहुंच के साथ बाजार में दर्शकों और सामग्री की लड़ाई में नए दौर को दिखाता है। लेकिन यह एक कठिन बाजार भी साबित हुआ है। उदाहरण के लिए, ग्राहकों को जोड़ने के लिए संघर्ष करते हुए नेटफ्लिक्स को कीमत के प्रति जागरूक उपयोगकर्ताओं को लुभाने में अपनी फीस में कटौती करनी पड़ी है।

मीडिया पार्टनर्स एशिया के कार्यकारी निदेशक विवेक कूटो ने कहा, “फिर भी चीन को छोड़ एशिया में भारत में ही उच्च विकास संभव है। वैसे इंडोनेशिया भी है, लेकिन यह अभी भी स्केलेबिलिटी के मामले में कुछ नीचे है।”

मुंबई में गुरुवार को रिलायंस के शेयर 1.5 फीसदी चढ़ गए। टीवी18 ब्रॉडकास्ट लिमिटेड 18% गिर गया, जबकि नेटवर्क18 भी 20% गिर गया।

जहां अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड अपने नेटवर्क18 मीडिया एंड इंवेस्टमेंट्स लिमिटेड के माध्यम से भारतीय मीडिया क्षेत्र में दायरा बढ़ा रही है, वहीं अडाणी समूह अभी शुरुआत कर रहा है। एक बयान के अनुसार, पिछले महीने अडाणी मीडिया वेंचर्स लिमिटेड क्विंटिलियन बिजनेस मीडिया प्राइवेट में हिस्सेदारी खरीदने के लिए सहमत हुई। क्विंटिलियन ब्लूमबर्ग न्यूज के मूल ब्लूमबर्ग एलपी का भारतीय भागीदार था।

बोधि ट्री 1.8 बिलियन डॉलर और रिलायंस की वायाकॉम18 से अतिरिक्त 216 मिलियन डॉलर लेकर इंडियन प्रीमियर लीग या आईपीएल के प्रसारण अधिकारों के लिए डिज्नी, अमेजन और सोनी ग्रुप कॉर्प के साथ महामुकाबले की तैयारी कर रहा है। कहना ही होगा कि आईपेल एक बेशकीमती वार्षिक क्रिकेट टूर्नामेंट है। सुपर बाउल के लगभग बराबर। इस मामले से परिचित लोगों ने कहा है कि बोलियां 5 अरब डॉलर से अधिक तक जा सकती हैं।

पिछले साल के आईपीएल के संस्करण में 380 मिलियन दर्शक आए। ऐसे में जो भी ब्रॉडकास्टर अधिकार जीतता है, वह अत्यधिक प्रतिस्पर्धी बाजार में लाखों नए ग्राहक यकीनन जुटा लेगा।

बोधि ट्री द्वारा किया गया निवेश मर्डोक परिवार की मनोरंजन बाजार में वापसी को भी दिखाता है। इससे पहले वॉल्ट डिज्नी कंपनी ने 2019 में स्टार इंडिया सहित 21स्ट सेंचुरी फॉक्स असेट का अधिग्रहण किया था। दुनिया भर में लाखों क्रिकेट प्रशंसकों के साथ डिज्नी अब हॉटस्टार का मालिक है, जो एक लोकप्रिय स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म है।

बोधि ट्री मर्डोक और स्टार इंडिया के पूर्व प्रमुख उदय शंकर और बाद में डिज्नी एशिया के बीच एक नया प्लेटफार्म है। कतर निवेश प्राधिकरण, कतर राज्य का संप्रभु धन कोष इसके निवेशक हैं।

इस बीच अडाणी समूह ने बुधवार को कहा कि उसने एएमजी मीडिया नेटवर्क्स को शामिल किया है। इसे जोड़ने से वह विभिन्न प्रकार के मीडिया नेटवर्क पर सामग्री के प्रकाशन, विज्ञापन, प्रसारण और वितरण पर ध्यान केंद्रित करेगा। हालांकि, इसके ब्योरे नहीं दिए गए हैं।

पिछले साल के अंत में एक स्थानीय मीडिया मुगल द्वारा संचालित सोनी और जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने विलय के लिए सहमति जताई थी, जो लगभग 10 अरब डॉलर मूल्य के मीडिया मुगल बनाएगा।

Also Read: आरआईएल और लूपा सिस्टम्स ने मिलाया हाथ, साझेदारी में आईपीएल अधिकारों की नीलामी में उतरने की तैयारी

Your email address will not be published.