देश में युवाओं की शक्ति का राष्ट्र निर्माण में उपयोग करने के लिए पर्याप्त अवसर-मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल

| Updated: April 11, 2022 9:55 pm

  • पंडित दीन दयाल ऊर्जा विश्वविद्यालय के नौवें दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में देश में युवाओं की शक्ति का राष्ट्र निर्माण में उपयोग करने के लिए स्टार्टअप, अनुसंधान और नवाचार के क्षेत्र में पर्याप्त अवसर पैदा हुए हैं। पंडित दीन दयाल ऊर्जा विश्वविद्यालय के नौवें स्नातक समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने छात्रों से ऊर्जा क्षेत्र में बदलाव को स्वीकार कर नए विकल्पों के साथ आने का आह्वान किया.

मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, पीडीईयू अध्यक्ष मुकेश अंबानी की उपस्थिति में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विश्वविद्यालय के इस नौवें स्नातक समारोह में 1563 स्नातकों, 40 पीएचडी डिग्री और 102 मेधावी छात्रों को उपाधि से सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मातृभूमि और राष्ट्रहित में जीने के लिए युवाओं के पास असंख्य अवसर हैं, साथ ही आज के युवाओं के पास भारत के भविष्य को आकार देने का सुनहरा अवसर है

पंडित दीन दयाल ऊर्जा विश्वविद्यालय के नौवें स्नातक समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने छात्रों से ऊर्जा क्षेत्र में बदलाव को स्वीकार कर नए विकल्पों के साथ आने का आह्वान किया. मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, पीडीईयू अध्यक्ष मुकेश अंबानी की उपस्थिति में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विश्वविद्यालय के इस नौवें स्नातक समारोह में 1563 स्नातकों, 40 पीएचडी डिग्री और 102 मेधावी छात्रों को सम्मानित किया.

इस अवसर पर शिक्षा मंत्री जीतू वाघाणी , राज्य मंत्री कुबेर भाई डिंडोर, विश्वविद्यालय की संचालन परिषद के परिमल नथवानी और अन्य सदस्य और स्थायी समिति के अध्यक्ष डॉ. हसमुख अधिया और विश्वविद्यालय के प्रोफेसर, स्नातकों के परिवार के साथ-साथ राज्य सरकार के संबंधित विभागों के वरिष्ठ सचिव उपस्थित थे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पंडित दीनदयाल विश्वविद्यालय राज्य में विभिन्न क्षेत्रीय विश्वविद्यालयों की शुरुआत कर गुजरात के युवाओं को घर बैठे ज्ञान के अवसर उपलब्ध कराने के प्रधानमंत्री के संकल्प के बीज का उत्कृष्ट उदाहरण है.

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि देश इस वर्ष स्वतंत्रता का अमृत पर्व मना रहा है और इस वर्ष युवा मित्रों को ऊर्जा क्षेत्र से संबंधित विभिन्न डिग्रियां मिल रही हैं. ऐसे कुशल युवाओं की सामाजिक जिम्मेदारी भी खास होती है। इस संदर्भ में उन्होंने युवा छात्रों को समाज के लाभ के लिए पेट्रोलियम, ऊर्जा, जलवायु परिवर्तन जैसे विषयों में अर्जित ज्ञान और कौशल का उपयोग करने की जरुरत है ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मातृभूमि और राष्ट्रहित में जीने के लिए युवाओं के पास असंख्य अवसर हैं, साथ ही आज के युवाओं के पास भारत के भविष्य को आकार देने का सुनहरा अवसर है।

गुजरात: सीएम भूपेंद्र पटेल ने GIHED संपत्ति शो के समापन समारोह में भाग लिया

Your email address will not be published. Required fields are marked *