गुजरात इलेक्ट्रिक वाहनों और ईवी बैटरी के उत्पादन का हब बनेगा : पीएम मोदी

| Updated: August 28, 2022 7:54 pm

मारुति सुजुकी के भारत आगमन के 40 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में गुजरात के महात्मा मंदिर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात इलेक्ट्रिक वाहनों और इसकी बैटरी के उत्पादन का केंद्र बनेगा। वास्तव में अब हम विद्युत युग में प्रवेश कर रहे हैं। अब बिजली से न सिर्फ घर जगमगाएंगे, वाहन भी इलेक्ट्रिक बैटरी से चलेंगे। इस मौके पर उन्होंने भारत-जापान संबंधों का भी हवाला दिया।

उन्होंने कहा कि वाइब्रेंट गुजरात में दूसरे देशों के बाद दूसरे देश आए, लेकिन जापान हमेशा से बड़ा भागीदार रहा है। आज अहमदाबाद और मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन भी दोनों देशों के इस व्यावसायिक रिश्ते की बदौलत है। 125 से अधिक जापानी कंपनियां गुजरात में हैं।

इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने सुजुकी की दो परियोजनाओं की आधारशिला रखी। सुजुकी गुजरात में एक इलेक्ट्रिक वाहन बैटरी निर्माण संयंत्र, एक बैटरी निर्माण संयंत्र और मांडवी तालुका में एक ऑटोमोटिव रीसाइक्लिंग सुविधा के लिए दस हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने इस प्लांट का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस प्लांट से गुजरात में 47 हजार रोजगार सृजित होंगे. गुजरात इलेक्ट्रिक वाहनों और इसकी बैटरी के उत्पादन का केंद्र बनेगा। वास्तव में अब हम विद्युत युग में प्रवेश कर रहे हैं। अब बिजली से न सिर्फ घर जगमगाएंगे, वाहन भी इलेक्ट्रिक बैटरी से चलेंगे।

इस मौके पर उन्होंने भारत-जापान संबंधों का भी हवाला दिया।उन्होंने कहा कि वाइब्रेंट गुजरात में दूसरे देश बाद में आये आए, लेकिन जापान हमेशा से बड़ा भागीदार रहा है। आज अहमदाबाद और मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन भी दोनों देशों के इस व्यावसायिक रिश्ते की बदौलत है। 125 से अधिक जापानी कंपनियां गुजरात में हैं

कई गुजरातियों ने जापान के साथ व्यापार करना जापानी सीख लिया है। गुजरातियों का गोल्फ से कोई संबंध नहीं था, लेकिन जापानी व्यापारियों के गोल्फ के शौक को देखकर गुजरातियों ने भी उनसे संपर्क करने के लिए गोल्फ सीखा है। आज गुजरात में कई गोल्फ कोर्स हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत में इलेक्ट्रिक वाहन तेजी से फैल रहे हैं।

लोग प्रदूषण रहित या बहुत कम प्रदूषण करने वाले वाहनों की ओर रुख कर रहे हैं। लोग अब पर्यावरण के प्रति अधिक जागरूक हो रहे हैं। इससे इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री भी तेजी से बढ़ी है। इसके कारण बैटरी की आवश्यकताएं व्यवहार करने लगती हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए बैटरी प्लांट भी लगाए जा रहे हैं।

सुजुकी ने भी इसी दिशा में कदम उठाए हैं। ऐसे बैटरी प्लांट इलेक्ट्रिक वाहनों की बढ़ती मांग को पूरा करेंगे। इसके अलावा सरकार ई-वाहनों पर भी सब्सिडी देती है। यह निश्चित रूप से कहा जा सकता है कि भारत में अगला दशक इलेक्ट्रिक वाहनों का है। इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री बढ़ाने के लिए देश में उच्च क्षमता वाली बैटरी का उत्पादन करना जरूरी है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत को अगले 25 वर्षों में ऊर्जा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने का लक्ष्य रखा गया है। कार्यक्रम के दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल तथा भाजपा प्रदेश प्रमुख सी आर पाटिल के आलावा कंपनी के अध्यक्ष श्री टी सुजुकी और मारुति सुजुकी के अध्यक्ष श्री आरसी भार्गव ने इस कार्यक्रम में प्रासंगिक संबोधन दिया। इस कार्यक्रम में हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर मौजूद रहे और उन्होंने वर्चुअली संबोधित किया।

जब गुजरात प्राकृतिक आपदा से जूझ रहा था, तब साजिशों का दौर शुरू हो गया था- मोदी

Your email address will not be published.