गुजरात पूर्ण परिवर्तन चाहता है – मनीष सिसोदिया

| Updated: September 26, 2022 8:27 pm

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia )ने कहा कि गुजरात पूर्ण परिवर्तन चाहता है। भाजपा के 27 साल के शासन से लोग लोग परेशान हो गए है। पिछले 6 दिनों के दौरान मुझे ( सिसोदिया को ) समाज के विभिन्न तबकों के लोग मिले , किसान मिले ,आंदोलनकारी मिले , सरकारी कर्मचारी , व्यापारी ,आम लोग मिले लेकिन गुजरात के लोगों का मानना है कि अब परिवर्तन का समय आ गया है , केजरीवाल पर लोगों भरोसा है अब पूर्ण परिवर्तन होगा।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने आगे कहा कि गुजरात( Gujarat )के लोगों को स्कूल चाहिए , अस्पताल चाहिए , जैसे दिल्ली में हैं , पंजाब में हो रहे हैं। अपने प्रवास के दौरान पालनपुर (Palanpur )का उदाहरण देते हुए आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि ” लोगों ने हमें बताया की यह पहले सरकारी अस्पताल था ,लेकिन गुजरात सरकार सरकारी अस्पताल चलाने में काबिल नहीं थी इसलिए संचालन प्राइवेट हाथ में दे दिया। इसी तरह डिसा में सभा के दो दिन पहले सरकारी स्कूल का बाहर से रंग रोगन किया गया लेकिन अंदर के हालात वही थे। हमें लोग गांव के स्कूल – कालेज दिखा रहे हैं , यह बदलते हुए गुजरात का प्रतीक है।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उत्तर गुजरात (North Gujarat )में 6 दिन में 9 जिलों की 14 विधानसभा में 14 जनसभा तथा 6 रोड शो के बाद अहमदबाद में पत्रकार परिषद को सम्बोधित कर रहे थे।

गुजरात में तीसरी शक्ति के तौर पर उभरने की कोशिश कर रही आम आदमी पार्टी की तरफ से घोषणा करते हुए सिसोदिया ने कहा कि गुजरात में पूरी तरह से शराब बंदी लागू होगी ,अभी कागज में शराबबंदी लागू है लेकिन एक समानांतर व्यवस्था चल रही है। किसान आंदोलन कर रहे , एक साथ 36 -36 आंदोलन हो रहे है। उत्तर गुजरात में पानी की समस्या है। गौशाला संचालकों को बजट में प्रावधान के बावजूद गुजरात सरकार ने 500 करोड़ आवंटित नहीं किये जबकि कोरोना के बाद गौसंचालको का चंदा कम हो गया है।

ठेका आधारित कर्मचारियों को दिल्ली में क्यों स्थायी नहीं किया गया का जवाब देते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कर्मचारियों की नियुक्ति का अधिकार केंद्र सरकार के अधिकार में हैं , इस मामले में हम सुप्रीम कोर्ट में केस लड़ रहे हैं ,लेकिन गुजरात में हम इसे निश्चित तौर से लागू करेंगे।

इसके पहले पहली नवरात्रि में मनीष सिसोदिया ने प्रसिद्ध सिद्धपीठ अंबाजी मंदिर में दर्शन और पूजा विधि की। सिसोदिया ने बनासकांठा के सरकारी गौशाला की मुलाकात कर वंहा के हालात को दयनीय बताते हुए भरोसा दिलाया की आप की सरकार बनने के बाद गौशाला के लिए फंड की कमी नहीं पड़ने दी जायेगी।

गुजरात चुनाव टाले जाने की संभावना: सीआर पाटिल

Your email address will not be published. Required fields are marked *