भारतीय मौसम विभाग ने पांच दिन मछुआरों को ना जाने की दी चेतावनी

| Updated: April 9, 2022 6:00 pm

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने गुजरात तट के मछुआरों को अगले पांच दिनों में संभावित ख़राब मौसम के पूर्वानुमान देखते हुए चेतावनी दी है। उन्होंने मछुआरों को खराब मौसम और भारी बारिश की संभावना के कारण खुले समुद्र और अन्य क्षेत्रों ना जाने की सलाह दी है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने 9 अप्रैल 2022 को दोपहर 12:30 बजे अलर्ट जारी किया।

आईएमडी मछुआरों को तेज हवाओं और तूफान के साथ धुँधले मौसम की संभावना के बारे में सूचित किया है ,भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार, खुले समुद्री क्षेत्रों में हवा की गति 40 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे के बीच होगी। बारिश के साथ बाहर हवा चलने की संभावना है।

मौसम विभाग ने कोमोरिन क्षेत्र और दक्षिण-पूर्वी अरब सागर से सटे क्षेत्रों में खराब मौसम की स्थिति को लेकर 9 और 10 अप्रैल 2022 के लिए चेतावनी जारी की है। जारी किए गए अलर्ट में, आईएमडी ने उल्लेख किया है कि मछुआरों को अगले पांच दिनों तक उपरोक्त क्षेत्रों में तब तक उद्यम नहीं करना चाहिए जब तक कि स्थिति में परिवर्तन ना हो जाये।

हालांकि, उत्तर या दक्षिण में गुजरात के तटों के लिए मछुआरों की चेतावनी का कोई जिक्र नहीं है । उत्तरी गुजरात तट में जखाऊ, मांडवी (कच्छ), मुंद्रा, न्यू कांडला, नवलखी, जामनगर, सलाया, ओखा और पोरबंदर जैसे बंदरगाह शामिल हैं। दक्षिण गुजरात तट में मूलद्वारका, वेरावल, दीव, जाफराबाद, पिपावाव, विक्टर, भावनगर, अलंग, भरूच, दहेज, मगदल्ला और दमन शामिल हैं।

11 अप्रैल, 12 अप्रैल और 13 अप्रैल 2022 को खुले समुद्र और अन्य क्षेत्रों के लिए मछुआरों की कोई चेतावनी नहीं है।

गुजरात में मोहब्बत का पैगाम देता है दलवाना गांव , मंदिर में टूटता है रोजा ,मस्जिद में गायत्री मंत्र का जाप

Your email address will not be published.