कश्मीर का पीएम मोदी ने जीता दिल , दिलाया भरोषा , तेजी से बदल रहे हालात

| Updated: April 24, 2022 2:16 pm

कश्मीरी युवाओं से बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'मैं जम्मू कश्मीर के नौजवानों से कहना चाहता हूं कि आपके माता-पिता, दादा-दादी और नाना-नानी को जिन मुसीबतों के साथ जिंदगी जीनी पड़ी. आपको कभी भी ऐसी जिंदगी जीनी नहीं पड़ेगी, ये मैं आपको करके दिखाऊंगा.'

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर जम्मू-कश्मीर में हैं, जहां से वे देशभर की ग्राम सभाओं को संबोधित कर रहे हैं. अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने पंचायतों की सराहना की और कहा कि यह व्यवस्था लोकतंत्र की भावना को मजबूत करती है.

पीएम मोदी ने आगे कहा कि सरकार पंचायत व्यवस्था को और अधिक कुशल बनाने की दिशा में काम करेगी. उन्होंने कहा, ‘सरकार इस बात का ध्यान रखेगी कि गांव के विकास से जुड़ी हर परियोजना की योजना बनाने और उसे लागू करने में पंचायत की भूमिका ज्यादा हो। इस तरह पंचायत राष्ट्रीय संकल्पों की प्राप्ति में एक महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में उभरेगी।”

पंचायती राज व्यवस्था में महिलाओं और बहनों की भागीदारी को और बढ़ाने पर भी हमारी सरकार का बहुत जोर है. भारत की बहन बेटियां क्या कर सकती हैं, ये कोरोना काल में दुनिया को भारत के अनुभव ने बहुत कुछ सिखाया है. ग्राम पंचायतों को सबको साथ लेकर एक और काम भी करना है. कुपोषण, एनीमिया से देश को बचाने का जो बीड़ा केंद्र सरकार ने उठाया है, उसके प्रति जमीन पर लोगों को जागरूक भी करना है.

कश्मीरी युवाओं को दिलाया भरोषा

पीएम मोदी ने कहा, ‘सरकार की कोशिश यही है कि गांव के विकास से जुड़े हर प्रोजेक्ट को प्लान करने और उसके अमल मे पंचायत की भूमिका ज्यादा हो. इससे राष्ट्रीय संकल्पों की सिद्धि में पंचायत अहम कड़ी बनकर उभरेगी. पंचायतों को ज्यादा अधिकार देने का लक्ष्य, पंचायतों को सही मायने में सशक्तिकरण का केंद्र बनाने का है. पंचायतों की बढ़ती हुई शक्ति, पंचायतों को मिलने वाली राशि, गांवों के विकास को नई ऊर्जा दे. इसका भी ध्यान रखा जा रहा है.’

कश्मीरी युवाओं से बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं जम्मू कश्मीर के नौजवानों से कहना चाहता हूं कि आपके माता-पिता, दादा-दादी और नाना-नानी को जिन मुसीबतों के साथ जिंदगी जीनी पड़ी. आपको कभी भी ऐसी जिंदगी जीनी नहीं पड़ेगी, ये मैं आपको करके दिखाऊंगा.’

पुरानी सरकारों पर साधा निशाना

प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, ‘कभी दिल्ली से एक सरकारी फाइल चलती थी, तो जम्मू कश्मीर पहुंचते-पहुंचते 2-3 हफ्ते लग जाते थे. मुझे खुशी है कि आज 500 किलो वॉट का सोलर पावर प्लांट सिर्फ 3 हफ्ते के अंदर यहां लागू हो जाता है, बिजली पैदा करना शुरु कर देता है.

केंद्र सरकार की योजनाएं अब यहां तेजी से लागू हो रही हैं. जिसका सीधा फायदा जम्मू कश्मीर के गांवों को हो रहा है. बिजली कनेक्शन हो, पानी कनेक्शन हो, स्वच्छ भारत अभियान के तहत टॉयलेट्स हो, इसका बड़ा लाभ जम्मू कश्मीर को मिला है. उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत काल यानी आने वाले 25 वर्षों में नया जम्मू कश्मीर विकास की नई गाथा लिखेगा. आजादी के 7 दशकों के दौरान जम्मू कश्मीर में मात्र 17,000 करोड़ रुपये का ही प्राइवेट इंवेस्टमेंट हो पाया था. पिछले 2 साल में ये आंकड़ा 38,000 करोड़ रुपये पहुंचा है.

जम्मू कश्मीर मेरे लिए नया नहीं- मोदी

जम्मू कश्मीर के लोगों से बात करते हुए पीएम मोदी मे कहा, ‘ ये भू-भाग मेरे लिए नया है, और न मैं आप लोगों के लिए नया हूं. मैं यहां की बारिकियों से अनेक वर्षों से परिचित रहा हूं. मेरे लिये खुशी की बात है कि आज यहां कनेक्टिविटी और बिजली से जुड़े 20,000 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है.


20000 करोड़ की विकास परियोजनाओं की सौगात


पीएम मोदी ने जम्मू के पल्ली गांव में 20,000 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. उन्होंने कहा कि मुझे यहां के सरपंच ने बताया कि यहां पिछले 10 दिनों से गांव वालों ने कई लोग आ रहे हैं. जिनके खानेपीने और रहने की व्यवस्था यहां के ग्रामीणों ने की.

भारत ने चीनी पर्यटकों के वीजा को किया निलंबित

Your email address will not be published.