वडोदरा 16 से 20 मई तक “नाटक के पूर्वोत्तर राष्ट्रीय महोत्सव – 2022” की मेजबानी करेगा

| Updated: May 14, 2022 9:10 pm

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय अपने एक महत्वपूर्ण समारोह “पूर्वोत्तर राष्ट्रीय नाटक महोत्सव – 2022″ का आयोजन कर रहा है जो 3 शहरों में आयोजित किया जा रहा है। बीकानेर (राजस्थान) 14 मई से 18 मई, वडोदरा (गुजरात) 16 मई से 20 मई और बेंगलुरु (कर्नाटक) जुलाई, 2022 हैं।

पूर्वोत्तर राज्यों से 15 नाटकों का चयन किया गया जो असम, मणिपुर और नागालैंड से हैं। प्रत्येक शहर में 5 नाटकों का मंचन किया जाएगा। जैसा कि नाम से पता चलता है, ‘नॉर्थ-ईस्ट नेशनल ड्रामा फेस्टिवल’ जिसमें उत्तर-पूर्वी राज्यों के नाटकों को देश के अन्य राज्यों में दिखाया जाएगा ताकि दर्शक, कलाकार भी दूसरे राज्यों की संस्कृति से जुड़ सकें और उन्हें मिल सके। उनको जानो।

नाटक कला का ऐसा सशक्त माध्यम है जो सीधे दर्शकों तक पहुंचता है। दर्शकों और कलाकारों के बीच सीधा संबंध बनता है। नाटक द्वारा दिखाए गए जीवन, समय, स्थान और संस्कृति को आसानी से समझा जा सकता है। आजादी की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में पूरा देश कोरोना के कठिन दौर से निकलने वाले ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मना रहा है और राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय इस वर्ष इस समारोह का आयोजन कर रहा है और इस उत्सव का हिस्सा बनकर गर्व महसूस कर रहा है। .

यह आयोजन वडोदरा में 16 से 20 मई, 2022 तक प्रदर्शन कला संकाय, बड़ौदा के महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय के सहयोग से किया जा रहा है। समारोह का उद्घाटन 16 मई को एस.एस.जी. के मेडिकल कॉलेज सभागार में किया जाएगा। मुख्य अतिथि प्रसिद्ध लेखक प्रो सीतांशु यशचंद्र द्वारा अस्पताल। समारोह में सम्मानित अतिथि राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के अध्यक्ष परेश रावल होंगे और विशिष्ट अतिथि प्रो. (डॉ.) विजय कुमार श्रीवास्तव – कुलपति, महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय बड़ौदा होंगे। समारोह की अध्यक्षता राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के निदेशक प्रो. (डॉ.) रमेश चंद्र गौर करेंगे। उद्घाटन समारोह के बाद मणिपुर की एस. शांतिबाला देवी द्वारा निर्देशित नाटक “द सेक्रेड विच” का मंचन किया जाएगा।

असीम कुमार नाथ द्वारा निर्देशित नाटक “हेवन टू हेल” का मंचन 17 मई को किया जाएगा, इसके बाद 18 मई को भरत चुटिया द्वारा निर्देशित नाटक “अयिर क्षोमन होबो कुन” का मंचन किया जाएगा। 19 मई को लीतानथम श्यामकिशोर सिंह द्वारा निर्देशित नाटक “शामलंगी थोंग लांडुना” का मंचन किया जाएगा। 20 मई को भागीरथी बाई कदम द्वारा निर्देशित नाटक “कमला देवी” (यादों के पन्ने) का मंचन किया जाएगा। वडोदरा के दर्शक इन सभी नाटकों को मुफ्त में देख सकेंगे।

पीएसआई अरुण मिश्रा सबसे फिट पुलिसकर्मी के तौर पर राज्य पुलिस प्रमुख द्वारा सम्मानित

Your email address will not be published.