गुजरात – एलजी मेडिकल कॉलेज का नया नाम नरेंद्र मोदी मेडिकल कालेज

| Updated: September 15, 2022 7:14 pm

अहमदाबाद (Ahmedabad) के मोटेरा में सरदार वल्लभभाई पटेल स्टेडियम (Sardar Vallabhbhai Patel Stadium )का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम Narendra Modi Stadium रखने के बाद अब एलजी मेडिकल कॉलेज (LG Medical College)को भी नरेंद्र मोदी मेडिकल कॉलेज( Narendra Modi Medical College) के नाम से भी जाना जाएगा। शहर के मणिनगर में अहमदाबाद महानगर पालिका (Ahmedabad Municipal Corporation )संचालित एलजी मेडिकल कॉलेज का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी मेडिकल कॉलेज करने के प्रस्ताव को नगर निगम के स्थायी समिति (Standing Committee )की बैठक में मंजूरी मिल गई है.

इस संबंध में अहमदाबाद नगर निगम स्थायी समिति के अध्यक्ष हितेश बरोट (Hitesh Barot, chairman of Ahmedabad Municipal Corporation Standing Committee )ने कहा कि एएमसी मेडिकल एजुकेशन ट्रस्ट की बैठक गुरुवार को हुई, जिसमें मणिनगर में एलजी अस्पताल के मेडिकल कॉलेज का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर रखने का प्रस्ताव रखा गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इससे पहले मणिनगर विधानसभा( Maninagar Assembly )से चुनाव लड़ चुके हैं और इस कॉलेज का निर्माण उनके समय में किया गया था। इसलिए आज स्थायी समिति में मेडिकल कॉलेज का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर रखने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है।

विपक्ष के नेता शहजाद खान (Leader of the Opposition Shahzad Khan )ने नामकरण का विरोध करते हुए कहा कि ” गुजरात में आगामी समय में विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा द्वारा शहरों और जगहों के नामकरण की योजना शुरू कर दी जाती है। एक व्यक्ति को खुश करने के लिए यह नाम परिवर्तन किया जा रहा है । कांग्रेस मेडिकल कॉलेज का नाम नरेंद्र मोदी मेडिकल कॉलेज रखने का विरोध कर रही है और नाम बदलने से वहां की स्थिति में सुधार नहीं होगा। मणिनगर के एलजी अस्पताल के मरीजों की हालत में सुधार के बजाय नाम बदलने की चिंता है. कांग्रेस, भाजपा के इस नामकरण नीति का विरोध करती है। नाम बदलने से कुछ नहीं होता, वहां के काम में सुधार की जरूरत है।

अहमदाबाद नगर निगम द्वारा संचालित मणिनगर एलजी जनरल अस्पताल में मरीजों की संख्या में क्रमिक वृद्धि को देखते हुए तत्कालीन मुख्यमंत्री और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उस समय मेडिकल कॉलेज स्थापना के विचार को ध्यान में रखते हुए मणिनगर स्थित एलजी अस्पताल परिसर में मेडिकल कालेज की स्थापना की गयी थी ,जिसका उद्घाटन नरेंद्र मोदी के हाथों किया गया था

2009 में प्रति वर्ष 150 एमबीबीएस सीटों के साथ शुरू हुए एएमसी मेट मेडिकल कॉलेज में वर्तमान में 2022 में कुल 200 एमबीबीएस और 170 एम.डी./एम.एस. छात्रों को प्रवेश मिलता है, जिसका सीधा फायदा अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले गरीब मरीजों को मिलता है। इस मेडिकल कॉलेज की स्थापना का श्रेय तत्कालीन मुख्यमंत्री और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। यह नेक सोच, दूरदर्शिता, दूरदर्शिता और अथक परिश्रम का फल है कि गुजरात राज्य के छात्रों को राज्य के बाहर चिकित्सा अध्ययन के लिए नहीं जाना पड़ता है।

आपको बता दें कि इससे पहले शहर के सरदार पटेल स्टेडियम का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम कर दिया गया था। इस नाम को रखने का काफी विरोध भी देखा गया था।

गुजरात -आंदोलन में एक पूर्व सैनिक की मौत, पुलिस से भिड़ंत ,सैनिकों ने जताया आक्रोश

Your email address will not be published.