वडगाम कांग्रेस के पूर्व विधायक मणिलाल वाघेला भाजपा में शामिल

| Updated: April 24, 2022 5:10 pm

आज बनासकांठा के वडगाम में निर्दलीय कांग्रेस समर्थित विधायक जिग्नेश मेवाणी की राह उस वक्त और मुश्किल हो गयी जब 2012 में कांग्रेस के विधायक रहे मणिलाल वाघेला भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हो गये , वाघेला के लिए कांग्रेस से चुनाव लड़ने की संभावना खत्म हो गयी थी।

आज बनासकांठा के वडगाम में निर्दलीय कांग्रेस समर्थित विधायक जिग्नेश मेवाणी की राह उस वक्त और मुश्किल हो गयी जब 2012 में कांग्रेस के विधायक रहे
मणिलाल वाघेला भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हो गये , वाघेला के लिए कांग्रेस से चुनाव लड़ने की संभावना खत्म हो गयी थी।

जिग्नेश मेवाणी को कांग्रेस ने पिछले चुनाव में समर्थन देते हुए अपना प्रत्याशी खड़ा नहीं किया था ,जिसके बाद वाघेला के सियासी रास्ते बंद हो गए थे , 6 महीना पहले ही पत्र लिखकर उन्होंने खुद को कांग्रेस से अलग कर लिया था।

इसलिए 2012 में वडगाम से कांग्रेस के पूर्व विधायक मणिलाल वाघेला, कांग्रेस से अलग हो गए और सी आर पाटिल के हाथों भाजपा में औपचारिक प्रवेश प्राप्त किया। पाटिल ने भाजपा का खेस पहनाकर उनका स्वागत किया।

वडगाम पहुंचकर अध्यक्ष सीआर पाटिल सबसे पहले मणिभद्र वीर दादा मंदिर स्थित ऐतिहासिक मणिभद्र वीर मंदिर पहुंचे। जहां उनको ट्रस्टी द्वारा 100 किलो सुखाड़ी प्रसाद देकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर भाजपा प्रभारी नंदजी ठाकोर, रजनीभाई पटेल ,प्रभारी सुरेशभाई शाह, जिलाध्यक्ष गुमानसिंह चौहान, शिक्षा मंत्री कीर्तिसिंह वाघेला, दीसा विधायक शशिकांत पंड्या, पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री हरिभाई चौधरी समेत पार्टी के अन्य सदस्य मौजूद थे.

सिविल लिबर्टी समूहों ने की मेवाणी की तत्काल रिहाई की मांग

Your email address will not be published.